समझाइश का समय खत्म, अब कार्रवाई करे अधिकारी

हनुमानगढ़/संगरिया. कोरोना महामारी से बचाव के लिए सबसे आवश्यक यही है कि एक स्थान पर एकत्रित होने से लोगों को रोका जाए। इसके लिए समझाइश का समय बीत चुका है।

By: adrish khan

Published: 02 May 2021, 07:55 PM IST

समझाइश का समय खत्म, अब कार्रवाई करे अधिकारी
- रोजी-रोटी के साथ समझना होगा स्वास्थ्य का महत्व भी
- विवाह समारोह संभव हो तो स्थगित करने की अपील
हनुमानगढ़/संगरिया. कोरोना महामारी से बचाव के लिए सबसे आवश्यक यही है कि एक स्थान पर एकत्रित होने से लोगों को रोका जाए। इसके लिए समझाइश का समय बीत चुका है। अब स्थानीय अधिकारी कठोर कार्रवाई करे। यह निर्देश जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने रविवार को स्थानीय ब्लॉक लेवल अधिकारियों को संबोधित करते हुए दिए। उन्होंने कहा कि प्रथम पंद्रह दिन में काफी समझाइश की जा चुकी है। अब इस महामारी से बचने के लिए आगामी पंद्रह दिन कठोर कार्रवाई की जरूरत है ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक अधिकारी अपने क्षेत्र को पूरे जिले के लिए आदर्श बनाकर शून्य केस वाला बनाने का प्रयास करे। मामूली सा भी संदेह हो तो तुरंत जांच करवाए व उपचार शुरू कराए। अब एक ही परिवार के लोग प्रभावित हो रहे हैं तो घर-बाजार कहीं भी लोग बाहर नजर ही ना आए, ऐसी व्यवस्था की जाए। उन्होंने सब्जी मंडी में भीड़ एकत्रित नहीं हो, इसके लिए विशेष प्रावधान करने को कहा। किरयाना स्टोर वालों को न्यूनतम राशि की राशन किट का प्रबंधन कर घर पर डिलीवर करने को कहा। कलक्टर ने कहा कि रोजी-रोटी के साथ स्वास्थ्य के महत्व को भी समझना होगा। इस अवसर पर एसडीएम रमेश देव, बीसीएमओ डॉ. बीएल शर्मा, चिकित्सा प्रभारी डॉ. बलवंत गुप्ता, तहसीलदार विवेक चौधरी, ईओ पुरुषोतम जैन, सीबीईओ सुरेंद्र मूंड, विकास अधिकारी रामप्रताप गोदारा आदि मौजूद रहे। जिला कलक्टर ने यहां पहुंचने पर राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण कर उपलब्ध संसाधनों व स्टाफ की जानकारी ली।(नसं.)
स्थगित हो समारोह
जिला कलक्टर ने कहा कि विवाह आयोजन में गाइडलाइन की पालना सख्ती से करानी जरूरी है। यदि संभव हो तो लोगों को प्रेरित कर आयोजन स्थगित करने का प्रयास किया जाए। स्वीकृत संख्या से एक भी व्यक्ति अधिक हो तो जुर्माना लगाया जाए। लोगों को समझ आना चाहिए कि आयोजन से अधिक महत्वपूर्ण उनका जीवन है। जिला कलक्टर डिडेल ने बाहर से आने वालों को ग्रामीण क्षेत्र में स्कूल एवं धर्मशाला तथा शहरी क्षेत्र में निर्धारित स्थान पर रुकवाने व रिर्पोट नेगेटिव आने तक आबादी से दूर रखने के निर्देश दिए।
आमजन का सहयोग कारगर
जिला कलक्टर ने पत्रिका से वार्ता में बताया कि प्रशासन को इस आपदा के समय आमजन का सहयोग चाहिए। इसके लिए स्थानीय स्तर पर उपखण्ड अधिकारी के माध्यम से सहयोग कर सकते हैं। जिला चिकित्सालय में जिला कलक्टर व चिकित्सालय की सोसायटी के माध्यम से सहयोग कर सकते हैं। उन्होंने पत्रिका के अभियान गांव-गांव आइसोलेशन सेंटर अभियान की सराहना की।

adrish khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned