#oneinall संगरिया की सारी आपराधिक खबरें पढ़े एक क्लिक में

Sonakshi Jain

Publish: Oct, 12 2017 05:29:24 PM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
#oneinall संगरिया की सारी आपराधिक खबरें पढ़े एक क्लिक में

संगरिया में कहा हो रही है कौन सी घटना जानने के लिए पढ़ते रहिए

हाईवे पर तेल टैंकर ने युवती को कुचला
संगरिया. चौटाला रोड पर गांव शेरगढ़ समीप तेल टैंकर ने बाइक सवार युवती को कुचल दिया। जिसकी मौके पर मौत हो गई जबकि बाइक चालक युवक बाल-बाल बच गया। मृतका की पहचान गांव शेरगढ़ निवासी विमला (२०) पुत्री महावीरङ्क्षसह के रूप में हुई है। ग्रामीणों के अनुसार युवती संगरिया की तरफ बाइक पर जा रहे युवक के साथ सवार थी। पीछे से आए तेल टैंकर ने टक्कर मार दी। कुचलने से मौत हो गई। युवक से लड़की बारे पूछने पर जवाब नहीं मिला तो संदेह में ग्रामीणों ने उसे सरेराह पीटा। मृतका की शिनाख्त होने बाद उसके पिता व बाइक चालक में बवाल हो गया। आरोप था कि हादसे में दोनों को चोटें आनी चाहिए थी लेकिन वह बाल बाल कैसे बच गया। पुलिस मौके पर आकर उसे ले गई। बाइक चालक धर्मजीतसिंह निवासी बुर्जङ्क्षसधवा (मलोट) ने कहा कि वो बङ्क्षठडा के निजी अस्पताल में कार्यरत है।

 

Video: किसानों ने दिया धरना, किया प्रदर्शन

 

जीएनएम एडमिशन सिलसिले में आया था। काम निपटाने के बाद बाद दोपहर बाइक पर अपनी बुआ से मिलने गांव शाहपीनी जा रहा था। स्कूल में एएनएम कर रही विमला ने बैंक जाने के लिए लिफ्ट मांगी। वे बाइक पर जा रहे थे, पीछे से तेल टैंकर ने टक्कर मार दी। विमला का पर्स टैंकर में फंसने से वो नीचे गिर गई और टैंकर उसके ऊपर से निकल गया लेकिन दूसरी ओर गिरने से वह बाल-बाल बचा। उसने टैंकर चालक को पकड़ लिया पर लोगों ने उसे पीट दिया। मृतका के पिता के अनुसार बेटी एएनएम पास कर दो साल से बङ्क्षठडा के निजी अस्पताल में नौकरी कर रही थी। करीब पांच दिन पूर्व घर में मिलकर वापस बङ्क्षठडा लौटी थी। अब दीपावली पर घर आना था। एसएचओ सुखदेवसिंह बताते हैं कि पिता के बयान पर अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जांच अधिकारी संदीपसिंह का कहना है कि डबवाली अस्पताल में पोस्टमार्टम उपरांत शव परिजनों को सौंप आगामी कार्रवाई शुरु की है।

 

शौचालय बनने के बाद भी नहीं मिली राशि

 

चौटाला माइनर में मिली वृद्ध की लाश
संगरिया. सीमावर्ती गांव चौटाला की माइनर में गुरुवार सुबह एक वृद्ध की लाश बरामद हुई। जिसे सीएचसी डबवाली मोर्चरी रुम में शिनाख्त के लिए सुरक्षित रखा गया है। चौटाला चौकी प्रभारी ने बताया कि शिनाख्त होने व परिजनों के पहुंचने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। चौटाला पैक्स सदस्य दयाराम उलाणियां के अनुसार करीब साठ साल के बूढ़े का शव माइनर में पीछे से बहकर आ रहा था। जिसे किसानों ने बाहर निकालकर पुलिस को सूचित किया। इससे पूर्व मंगलवार को एक वृद्धा ने गांव अबूबशहर स्थित राजस्थान कैनाल में छलांग लगा दी थी। बागड़ी भाषा बोलने वाली वृद्धा ऑटो रिक्शा चालक प्रदीप कुमार के साथ पूजा पाठ की सामग्री डालने के लिएअबूबशहर नहर पर आई। देखते ही देखते लिफाफे में कर्मकांड के सामान की बला से बचने के लिए पीछे हटने का कहते हुए वृद्धा ने नहर में छलांग लगा दी। शोर मचाने पर आए लोगों व पुलिस के पहुंचने तक वो डूब चुकी थी।

 

Video: स्टोपर से टकराकर डी रेल हुआ थर्मल का इंजन

 

छात्र ने ब्लेड से गला काटकर बीकानेर में की थी आत्महत्या
संगरिया. बीकानेर में अपनी भुआ के घर रह रहे छात्र का उसके पैतृक गांव रासूवाला में गुरुवार सुबह गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार हो गया। मृतक रासूवाला निवासी बलजिंद्रसिंह (२२) पुत्र गुरदयालसिंह एमएन नर्सिंग इंस्टीट्यूट बीकानेर में बीएसई अंतिम वर्ष में अध्ययनरत था। वह इंदिरा कॉलोनी बीकानेर में अपनी भुआ के पास ही रहकर पढ़ रहा था। बुधवार सुबह उसने बाथरुम में जाकर ब्लेड से गला काट लिया था। अधिक खून बहने से उसकी मौत हो गई थी। पीबीएम हस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। सरपंच पांडुराम ने बताया कि पोस्टमॉर्ट्म के बाद जैसे ही पैतृक गांव रासूवाला में बलजिंद्र का शव पहुंचा तो माहौल गमगीन हो गया। मां-बाप के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे। आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका। बीछवाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

Video: एक दषक से इस सडक पर हिचकोले खाती चल रही जिन्दगी

 

आत्महत्या दुष्प्रेरण का मामला दर्ज, भाई ने दामाद सहित तीन पर आरोप
संगरिया. ससुरालियों की प्रताडऩा से दुखी तंग आकर आखिरकार फांसी के फंदे पर झूलकर मौत को गले लगा लिया। दहेज से नाखुश आरोपितों के उकसाने पर एक पैर से दिव्यांग ने ऐसा कदम उठाया। मृतका के भाई निहालखेड़ा (अबोहर) निवासी दलीप पुत्र बहादरराम मेघवाल की दी गई रिपोर्ट पर आत्महत्या दुष्पे्ररण के आरोप में पुलिस ने पति देवीलाल, सास दौलतीदेवी, ससुर काशीराम व ननद कलावतीदेवी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु की है। दलीप ने पुलिस को ये बताया कि उसकी मंजू की शादी नौ साल पहले वार्ड एक निवासी देवीलाल मेघवाल के साथ हुई थी। उसके तीन नाबालिग लड़किया हैं और मौत के वक्त भी वह गर्भवती थी। ससुराल वालों की प्रताडऩा के चलते वह मौत से तीन माह पूर्व गिर गई थी और बैसाखी के सहारे थी। १२ सितंबर सुबह सात बजे परेशान होकर मंजू ने अपने कमरे में फंदे से लटककर मौत को गले लगा लिया। मामले की जांच डीएसपी देवानंद कर रहे हैं। गौरतलब है कि घटना के रोज मर्ग दर्ज हुई थी। पोस्टर्माटम होने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया था। अब अलग से दुष्प्रेरण मामला गुरुवार को दर्ज हुआ।

 

Video: व्यापार मंडल अध्यक्ष पद के लिए 3 उमीदवार मैदान में

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned