जल संसाधन विभाग को 408 नए लिपिक मिले,विभागीय कामकाज को मिलेगी गति

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जल संसाधन विभाग को पूरे प्रदेश में 408 जूनियर लिपिक मिले हैं। शुक्रवार को ज्वाइनिंग के लिए मुख्य अभियंता हनुमानगढ़ के कार्यालय के बाहर नव चयनित लिपिक ज्वाइनिंग के लिए उमड़ पड़े। चयनित लिपिकों को मनचाही जगहों पर नियुक्ति देने को लेकर जल संसाधन विभाग मुख्य अभियंता कार्यालय स्तर पर दो काउंटर बनाए गए थे। कतारबद्ध होकर नव चयनित अभ्यर्थी अपनी बारी की प्रतीक्षा करते रहे। नए लिपिकों की नियुक्ति से विभागीय कामकाज को काफी गति मिलने की उम्मीद है।

 

By: Purushottam Jha

Updated: 27 Jun 2020, 09:18 AM IST

जल संसाधन विभाग को 408 नए लिपिक मिले,विभागीय कामकाज को मिलेगी गति
-नियुक्ति पाने को उमड़े नव चयनित अभ्यर्थी
-रिक्त पदों पर नियुक्ति मिलने से विभागीय कामकाज को मिलेगी गति
हनुमानगढ़. जल संसाधन विभाग को पूरे प्रदेश में 408 जूनियर लिपिक मिले हैं। शुक्रवार को ज्वाइनिंग के लिए मुख्य अभियंता हनुमानगढ़ के कार्यालय के बाहर नव चयनित लिपिक ज्वाइनिंग के लिए उमड़ पड़े। चयनित लिपिकों को मनचाही जगहों पर नियुक्ति देने को लेकर जल संसाधन विभाग मुख्य अभियंता कार्यालय स्तर पर दो काउंटर बनाए गए थे। कतारबद्ध होकर नव चयनित अभ्यर्थी अपनी बारी की प्रतीक्षा करते रहे। नए लिपिकों की नियुक्ति से विभागीय कामकाज को काफी गति मिलने की उम्मीद है।
इससे पूर्व सुबह नौ बजे से अभ्यर्थी नियुक्ति पाने की उम्मीद में जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता हनुमानगढ़ कार्यालय पहुंचने लगे। नियुक्ति मिलने के बाद नव चयनित लिपिक काफी खुश नजर आ रहे थे। अभ्यर्थियों की प्राथमिकताएं पूछकर संबंधित खंड कार्यालय का आवंटन किया गया। गौरतलब है कि वर्ष २०१८ में राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से ११ हजार जूनियर लिपिक पदों के लिए भर्ती परीक्षा हुई थी। इसमें चयनित अभ्यर्थियों को जिला व विभाग आवंटित कर अब ज्वाइनिंग देने का काम शुरू किया गया है। प्रदेश में जल संसाधन विभाग को कुल ४०८ लिपिक आवंटित किए गए हैं। इसमें सर्वाधिक १०१ लिपिक उत्तर जोन हनुमानगढ़ कार्यालय को मिले हैं।

बीटेक व एमटेक
राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित परीक्षा में चयन के बाद अब जूनियर लिपिकों को सरकार स्तर पर नियुक्ति देने की प्रक्रिया शुरू की गई है। शुक्रवार को जल संसाधन कार्यालय में नियुक्ति पाने को पहुंचने इन लिपिकों में कइयों की शैक्षणिक योग्यता बीटेक व एमटेक थी।

इन्होंने दी नियुक्ति
नियुक्ति देने को लेकर बनाए गए दो काउंटर का प्रभारी अधीक्षण अभियंता छगनलाल छाबड़ा को बनाया गया था। साथ ही एक्सईएन वीरेंद्र मीणा, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी दिनेश मीणा, वरिष्ठ सहायक प्रमिला बिश्नोई व कनिष्ठ सहायक राजेश कुमार आदि ने संबंधित अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन के बाद नियुक्ति पत्र सौंपने की प्रक्रिया पूरी की।

१९७८ के बाद भर्ती
जल संसाधन विभाग में वर्ष १९७८ में लिपिक पदों पर भर्ती हुई थी। लंबा समय बीतने के बाद अब विभाग को लिपिक मिले हैं। हनुमानगढ़ उत्तर जोन कार्यालय की बात करें तो लिपिकों के कुल १२५ रिक्त पद चल रहे थे। इसमें अब १०१ पदों पर नियुक्ति होने पर विभागीय कामकाज को गति मिल सकेगी।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned