अब 'चरण' नहीं, लेंगे विधायकों की शरण

Adrish Khan | Updated: 14 Sep 2019, 11:29:16 AM (IST) Hanumangarh, Hanumangarh, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. आईसीटी योजना का नया चरण शुरू नहीं होने के कारण अब विधायकों की शरण ली जाएगी। दरअसल, माध्यमिक शिक्षा के सरकारी विद्यालयों में कम्प्यूटर लैब स्थापना के लिए संचालित आईसीटी योजना का छठा चरण फिलहाल प्रारंभ नहीं हुआ है।

अब 'चरण' नहीं, लेंगे विधायकों की शरण
- जिले के मावि व उमावि में शत-प्रतिशत कम्प्यूटर लैब स्थापना को लेकर प्रयास
- आईसीटी योजना के बाद वंचित विद्यालयों में सहयोग लेकर होगी कम्प्यूटर लैब की स्थापना
हनुमानगढ़. आईसीटी योजना का नया चरण शुरू नहीं होने के कारण अब विधायकों की शरण ली जाएगी। दरअसल, माध्यमिक शिक्षा के सरकारी विद्यालयों में कम्प्यूटर लैब स्थापना के लिए संचालित आईसीटी योजना का छठा चरण फिलहाल प्रारंभ नहीं हुआ है। ऐसे में शिक्षा विभाग के स्थानीय अधिकारी यह प्रयास कर रहे हैं कि विधायकों से आर्थिक सहयोग लेकर जिले के सभी विद्यालयों में कम्प्यूटर लैब की स्थापना का लक्ष्य हासिल कर लिया जाए।
जानकारी के अनुसार पिछले दिनों जिला निष्पादक समिति की बैठक में यह निर्णय किया गया कि वंचित मावि व उमावि में विधायक कोटे से राशि लेकर कम्प्यूटर लैब स्थापित की जाए। इसके तहत मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ने नौ सितम्बर को सभी सीबीईओ को पत्र लिख दिया। अब जल्दी सीबीईओ यह पत्र लेकर संबंधित विधायक के पास जाएंगे। उनसे विधायक कोटे से लैब निर्माण के लिए राशि की मांग करेंगे। विधायक कोटे से राशि स्वीकृत होने के बाद लैब स्थापना के कुल खर्च का 75 प्रतिशत हिस्सा राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद देगी। मतलब लैब के लिए पूरी राशि विधायक कोटे से मंजूर नहीं करानी है। सिर्फ 25 फीसदी राशि ही स्वीकृत करानी है।
तीन लाख तीन हजार
सरकारी मापदंडों के अनुसार आईसीटी लैब निर्माण पर कुल खर्च तीन लाख तीन हजार रुपए आता है। इसका अर्थ है कि विधायक कोटे से एक लैब के लिए करीब 75 हजार रुपए ही स्वीकृत कराने होंगे। शेष सवा दो लाख रुपए से अधिक राशि स्कूल राजस्थान शिक्षा परिषद देगी।
47 में नहीं आईसीटी लैब
जिले के 47 माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों में आईसीटी लैब नहीं है। जबकि कुल 304 विद्यालयों में आईसीटी लैब का निर्माण हो चुका है। इसके लिए आईसीटी योजना के छह चरण जिले में चले। पहले चरण में 64, द्वितीय में 50, तृतीय में 75, चतुर्थ में 9 तथा पांचवें में तीन विद्यालयों में आईसीटी लैब स्थापित की गई।
आईसीटी के चरण व लैब निर्माण
चरण विद्यालय संख्या
प्रथम 64
द्वितीय 50
तृतीय 75
चतुर्थ 09
पांचवां 03
11-72 योजना में - 92 में लैब स्थापित
50-51 योजना में - 09 में लैब स्थापित
मंजूरी के लिए लिखा पत्र
जिले के 47 विद्यालयों में आईसीटी लैब नहीं है। वहां लैब निर्माण के लिए सीडीईओ ने सभी सीबीईओ को पत्र लिखकर विधायक कोटे से राशि मंजूर करवाने का प्रयास करने को कहा है। - हरलाल ढाका, पीओ, आईसीटी योजना, समसा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned