Lockdown में फंसी महिला सिपाही इस तरह कर रही फर्ज पूरा, अब सभी कर रहे तारीफ

Highlights

. कानपुर में तैनात है हापुड़ की रहने वाली सिपाही मनीषा पवार
. लॉकडाउन की वजह से कानुपर में फंस गई थी मनीषा
. एडीजी के आदेश पर गृहजनपद में डायल 112 पर कर रही डयूटी

 

हापुड़। यूपी 112 कानपुर में तैनात हापुड़ की रहने वाली सिपाही मनीषा पवार ने कोरोना वायरस से फैले संकट में कर्तव्य की मिसाल पेश की है। फर्ज के खातिर छुट्टी पर आई महिला सिपाही ने एडीजी से बातकर खुद की तैनाती जनपद की डायल 112 पर कराई है। ताकि वे फैली महामारी में जनता की सेवा कर सके।

बता दें कि जनपद हापुड़ के पिलखुवा की रहने वाली महिला सिपाही मनीषा पवार 18 मार्च को 7 दिन की छूट्टी पर घर आई थी। जिसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में लॉकडाउन कर दिया। जिसके बाद वे कानपुर ड्यूटी पर नही जा पाई। लेकिन फर्ज की खातिर महिला सिपाही आगे बढ़ी और उन्होंने व्हाट्सएप्प पर पत्र लिखकर एडीजी असीम अरुण से मांग कि लॉकडाउन के कारण कानपुर आने में असमर्थ है। वहीं, उन्हें काफी दिक्कतें भी है, उसे हापुड़ में ही तैनाती दे दी जाए। अगर कोई ऐसा नियम है तो। बताया जा रहा है कि एडीजी ने व्हाट्सएप्प पर मिले पत्र में माध्यम से महिला सिपाही मनीषा पवार को यूपी 112 पर जनपद हापुड के पिलखुवा में ही तैनाती का आदेश जारी कर दिए। अब महिला सिपाही यूपी 112 पर ड्यूटी कर रही है।

पीएम मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की थी। जिसके बाद सिपाही मनीषा पवार ने अपनी डयूटी की मांग हापुड़ में लगाने की थी। लोकडाउन खत्म होने के बाद महिला सिपाही मनीषा अपने तैनाती के जिले कानपुर चली जायगी।

यह भी पढ़ें: Corona को हराने के लिए घर में रहे कैद, आवश्यक सामान की डोर-टू-डोर सप्लाई हुई शुरू

virendra sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned