यूपी हापुड़ में नाबालिग लड़की से चार युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

  • घटना के बाद पुलिस ने चारों आरोपियों को किया गिरफ्तार
  • पीड़िता के परिवार वालों से मिले अफसरों ने जताया भराेसा

By: shivmani tyagi

Published: 21 Dec 2020, 06:30 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

हापुड़ ( Hapur) . दादी के साथ खेत में काम करने गई 13 साल की किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की घटना ( hapur crime ) सामने आई है। आराेपाें के अनुसार इस घटना को पड़ोस के ही गांव के चार युवकों ने अंजाम दिया है। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई है। पीड़िता के मेडिकल परीक्षण में घटना की पुष्टि हुई है. इसके बाद से पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट तैयार करनी शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: AMU के शताब्दी समारोह में शिरकत कर कल इतिहास रचेंगे PM Modi, डाक टिकट भी करेंगे जारी

घटना कोतवाली क्षेत्र की है। शनिवार को कोतवाली क्षेत्र के ही एक गांव की रहने वाली किशोरी अपनी दादी के साथ खेत में काम करने गई थी। आराेपाें के अनुसार दादी की नजर हटी तो पड़ोसी गांव के युवक रिहान तस्लीम दानिश और अब्दुल ने किशोरी को खेत में खींच लिया और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. जब पीड़िता ने पड़ोस के ही गांव के रहने वाले चार युवकों ने शोर मचाया तो इस घटना का पता चला।

यह भी पढ़ें: यूपी के इन शहरों शून्य के करीब पहुंचा पारा, मौसम विभाग ने जारी की बारिश की चेतावनी

घटनाक्रम ( crime against women in up ) के अनुसार शोर मचाने पर आरोपी युवक वहां से भाग निकले लेकिन पीड़िता के भाई ने चारों आरोपियों को देख लिया. उनका पीछा भी किया लेकिन पकड़ में नहीं आए. इसके बाद पीड़िता को बदहवास हालत में गांव लाया गया और पूरी घटना परिवार के लोगों ने पुलिस को बताई. पुलिस ने पीड़िता को उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया और चारों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. अगले दिन दोपहर को एक अन्य और चौथे आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया. इस घटना को लेकर क्षेत्र में तनाव जैसे हालात हैं पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

आला अफसरों ने किया घटनास्थल का निरीक्षण
इस घटना के बाद एडीएम जे नाथ यादव और एसपी सर्वेश मिश्रा ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. पुलिस का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ सुबूत इकट्ठा किए जा रहे हैं. पुलिस अधिकारियों ने पीड़ित परिवार को सांत्वना दी है और उन्हें भरोसा दिलाया है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाएंगे। सोमवार को राज्य सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य मनोज बाल्मीकि भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे. आयोग की सदस्य साध्वी गीता भी पीड़ित परिवार से मिली और पूरी घटना की जानकारी ली. जिले के प्रभारी मंत्री संदीप सिंह ने भी पीड़िता के परिवार से मिलकर उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया है ।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned