scriptillegal liquor started being made due to garh ganga mela | गढ़ मेला नजदीक आते ही खादर में दहकने लगी अवैध शराब की भट्टियां | Patrika News

गढ़ मेला नजदीक आते ही खादर में दहकने लगी अवैध शराब की भट्टियां

कोरोना संक्रमण कम होने के चलते इस बार गढ़ मेला की संभावना बन रही है। जिसके चलते आसपास के जिलों के ग्रामीणों में मेला को लेकर जहां एक ओर उत्साह है वहीं दूसरी ओर मेला के नजदीक आते ही खादर इलाके में अवैध शराब की भट्टियां दहकने लगी हैं।

हापुड़

Published: October 17, 2021 04:09:03 pm

हापुड़. जिले में अवैध शराब पर लगाम कसने के बाद भी तस्करों के हौसले बुलंद हैं। गढ़ मेला नजदीक आते ही क्षेत्र के खादर से सटे गांवों के जंगलों में फिर से अवैध शराब की भट्टियां दहकने लगी हैं। प्रतिदिन खादर के इलाके से निकलने वाली इन भट्टियों के धुंए को देखकर पुलिस प्रशासन के साथ ही आबकारी अधिकारी भी अनजान बैठे हुए हैं। संभवत वह किसी बड़ी घटना के इंतजार में हैं। खादर के गांव नयागांव में शराब की भट्टी के साथ साथ पिन्नी में शराब के लिए लहन भी स्टॉक होने लगी है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले गंगा मेले के लिए इस शराब का स्टॉक किया जा रहा है।
illegal liquor
गढ़मुक्तेश्वर के खादर के क्षेत्रों में स्थित जंगलों में बड़े पैमाने पर शराब की भट्टियां दहकती हैं। इन भट्टियों को तहस-नहस करने के लिए आबकारी विभाग के साथ साथ पुलिस ने भी कई बार अभियान चलाया है। जिसके बाद कुछ दिनों तक तो शांति रहती है, लेकिन उसके बाद से जंगलों में भट्टियां सुलग उठती हैं। शराब माफियाओं ने भट्टियों को दहकने के साथ ही शराब का स्टॉक करना भी शुरू कर दिया है। खादर के नया गांव के जंगल में जहरीली शराब का गोरखधंधा खूब तेजी से फल-फूल रहा है। आग में तपती शराब की भट्टियां और शराब तैयार करने के लिए लहन का स्टॉक भी भरपूर मात्रा में मिला।
यह भी पढ़ें- प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, भाई बोला- भाभी को बहुत प्यार करता था, लेकिन...

बता दें कि कुछ ही दिनों में गंगा मेला की तैयारियां शुरू हो जाएंगी। इस मेले में दिल्ली के साथ साथ पश्चिमी उप्र के अलावा हरियाणा, पंजाब, राजस्थान आदि राज्यों के विभिन्न जिलों और गांवों से लोग कई दिन पहले अपना तंबू लगा लेते हैं। मेले में शराब पूर्णतया प्रतिबंधित रहती है। ऐसे में जहरीली शराब को इस मेले में ही खपाया जाता है। जिस प्रकार से खादर के जंगलों में शराब की भट्टियां दहक रही है, उससे साफ है कि यहां बनने वाली शराब का स्टॉक मेले के लिए ही किया जा रहा है। इस संबंध में एसपी दीपक भूकर ने बताया कि यदि जंगलों में शराब तैयार कराई जा रही है तो पुलिस को उचित कार्रवाई के आदेश जारी किए जा रहे हैं। किसी भी हाल में अवैध शराब नहीं बनने दी जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजUP Election 2022: सपा कार्यालय में आयोजित रैली में टूटा कोविड प्रोटोकॉल, लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में सपा नेताओं पर FIR दर्जGujarat Hindi News : दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्राओं समेत पांच की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.