हापुड़ में 6 साल की बच्ची के साथ हैवानियत करने वालों के स्केच जारी

  • मेरठ के एक अस्पताल में चल रहा बच्ची का इलाज
  • तीनाें आरोपियों की तलाश में लगी हैं आठ पुलिस टीमें

By: shivmani tyagi

Updated: 09 Aug 2020, 02:42 PM IST

हापुड़ ( Hapur news in Hindi ) अपहरण के बाद छह साल की बच्ची से दुष्कर्म करने वाले आरोपियों की तलाश में हापुड़ की आठ पुलिस टीमें लगी हुई हैं लेकिन अभी तक इनका कोई सुराग नहीं लगा है। अब एडीजी मेरठ के आदेश पर हापुड़ पुलिस ने तीनों आरोपियों के स्केच जारी किए हैं।

image-1.jpg

( up crime news ) जारी किए गए इन स्केच को सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। लोगों से बच्ची के साथ हैवानियत करने वाले इन दरिंदों को गिरफ्तार करने में मदद मांगी जा रही है। इन आरोपियों ने शुक्रवार की देर शाम मासूम बच्ची का अपहरण कर लिया था। तीनों ने बच्ची के साथ हैवानियत की और जंगल में फेंककर चले गए। गायब बच्ची की पुलिस ने तलाश की और उसे जंगल से बरामद कर लिया। जब पुलिस ने बच्ची को बरामद किया तो वह देखने में स्वस्थ लग रही थी लेकिन मेडिकल चेकअप के बाद उसे इलाज के लिए मेरठ रेफर कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: खाकी की दबंगई ! चेकिंग के दौरान स्कूटी सवार की नाक पर मारा डंडा

मेडिकल चेकअप में बच्ची के साथ रेप किए जाने की पुष्टि हुई। इस घटना ने सभी को झकझोर दिया और विकृत मानसिकता के आरोपियों की तलाश के लिए आठ अलग-अलग टीमें गठित की गई। रविवार सुबह तक भी जब इन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लग सका तो पुलिस ने इनके स्केच जारी किए। उम्मीद जताई जा रही है कि अब स्केच जारी होने के बाद ये दरिंदे कहीं भी चुप नहीं पाएंगे।

image-2.jpg

जानिए पूरी घटना
घटना शुक्रवार शाम की है। हापुड़ में एक मासूम बच्ची अपने घर के बाहर खेल रही थी तभी कुछ लोग बाइक से आए और बच्ची का अपहरण कर लिया। काफी देर तक जब बच्ची घर नहीं लौटी तो परिजनों को फिक्र हुई और उसकी तलाश शुरू की गई लेकिन कोई पता नहीं चला। इसके बाद परिजनों ने पुलिस को पूरे मामले की सूचना दी। गढ़ कोतवाली पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए बच्चे की तलाश की और अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें: इंटर स्टेट गैंग के बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड़, दो गोली लगने से घायल, एक फरार

तलाश के दौरान पुलिस को बच्ची एक जंगल में बेहोशी की हालत में मिली। यह सूचना मिलते ही परिजन भी मौके पर पहुंच गए और बच्ची को तुरंत हापुड़ के एक सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे मेरठ रेफर कर दिया गया। इस पूरी घटना को 3 दिन बीत चुके हैं लेकिन अभी तक आरोपियों का कोई पता नहीं चल सका है।

image-3.jpg
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned