script500 rupees will have to be spent for applying the precaution dose | प्रिकॉशन डोज लगाने के लिए खर्च करने पड़ेंगे 500 रुपए | Patrika News

प्रिकॉशन डोज लगाने के लिए खर्च करने पड़ेंगे 500 रुपए

जिले के लगभग 14 अस्पतालों ने अब तक प्रिकॉशन डोज खरीदने के लिए आर्डर नहीं किया है, कोरोना की चौथी लहर की आशंका के चलते लोग डोज लगवाने के लिए हो रहे हैं परेशान

हरदा

Updated: April 19, 2022 12:58:56 am

हरदा. पिछले दिनों कानपुर के विशेषज्ञों ने रिचर्स किया था और कहा था कि कोरोना की चौथी लहर 22 जून 2022 के आसपास शुरू हो सकती है। इस लहर का पीक अगस्त के आखिरी पर चरम पर हो सकता है। इस भविष्यवाणी के बाद सरकार द्वारा देश के लोगों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए दो डोज के बाद प्रिकॉशन यानी बूस्टर डोज लगाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। सरकार ने जहां 6 0 प्लस के लोगों के लिए सरकारी अस्पतालों में निशुल्क डोज लगाने की व्यवस्था की है, वहीं 18 प्लस के नागरिकों को प्राइवेट अस्पतालों में बूस्टर डोज लगाने के आदेश गत 10 अपे्रल को जारी किए थे।लेकिन जिले के एक भी निजी नर्सिंगहोम में अभी तक प्रिकॉशन डोज उनके द्वारा लगाए जाने को लेकर कंपनी को आर्डर भी नहीं किया गया है।इसके कारण 18 प्लस के लोगों को यह डोज कब लगेगा, इसकों लेकर कोई तैयारियां नहीं दिख रही हैं। जबकि जिले के 6 0 प्लस के 6 28 5 लोगों को बूस्टर डोज लग चुका है। इसमें हेल्थ वर्कर और अन्य शामिल है।

प्रिकॉशन डोज लगाने के लिए खर्च करने पड़ेंगे 500 रुपए
प्रिकॉशन डोज लगाने के लिए खर्च करने पड़ेंगे 500 रुपए

प्रिकॉशन डोज लगाने के इंतजार में लोग
जानकारी के अनुसार जिले में 18 प्लस के 28 08 35 लोगों को कोरोना का टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। इसमें 2746 04 को प्रथम और 2548 8 2 को दूसरा डोज लग चुका है। इनमें कईलोगों को नौमहीने का समय पूरा हो गया है, जो प्रिकॉशन डोज लगाने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन शासन के आदेश के बाद भी जिले के प्राइवेट अस्पतालों में उक्त डोज लगाने की शुरुआत नहीं हुईहै। हरदा, खिरकिया और टिमरनी क्षेत्र में लगभग 14 प्राइवेट अस्पताल हैं, जिन्हें 18 प्लस के लोगों को प्रिकॉशन डोज लगाने के आदेश दिए गए हैं।लेकिन इसके बावजूद इनके संचालक इस तरफ ध्यान देने को तैयार नहीं है।नागरिकों ने बताया कि उन्हें दूसरा डोज लगाए हुए नौमहीने से अधिक का समय हो गया है। लेकिन डोज कहां लगवाए यह समझ में नहीं आ रहा है। जबकि सरकार अस्पतालों में 18 प्लस के लोगों को प्रिकॉशन डोज लगाने के कोईआदेश नहीं मिले हैं। ऐसी स्थिति में लोग उक्त डोज लगवाने को लेकर परेशान हैं। जबकि विशेषज्ञों द्वारा स्पष्ट रूप से कहा गया हैकि कोरोना की चौथी लहर आने का अंदेशा है। ऐसे में प्रिकॉशन डोज लगाया जाना लोगों के लिए जरुरी हो गया है।

10482 बच्चों को नहीं लगे टीके
सरकार द्वारा 23 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों को कोरोना से सुरक्षित करने के लिए टीकाकरण शुरू किया था। इसके लिए हरदा जिले के तीनों ब्लाकों में 23910 बच्चों को टीकाकरण के लिए चिह्नित किया गया था, लेकिन इनमें से अभी तक 1348 2 बच्चों को ही टीका लग पाया है, जबकि 1048 2 बच्चे टीका लगाने के लिए शेष रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग और शिक्षा विभाग बाकी रहे बच्चों को टीका लगाने के लिए तलाश रहा है।

लगभग 400 से 500 रुपए में लगेंगे डोज
सरकार के आदेश के बाद जिले के निजी अस्पतालों में 18 प्लस के लोगों को प्रिकॉशन डोज लगाने के लिए लगभग 400 से 500 रुपए खर्च करना पड़ेंगे। जबकि प्रथम और द्वितीय डोज निशुल्क लगाया गया था। सरकार द्वारा वैक्सीन लगाने के लिए 150 रुपए का सर्विस चार्ज भी निर्धारित किया है। वहीं वैक्सीन की कीमत 250 से 300 रुपए रखी गईहै। निजी अस्पतालों को कोविशील्ड वैक्सीन सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को तथा को-वैक्सीन खरीदने के लिए भारत बायाटेक कंपनी को आर्डर करना पड़ेगा। इसके बाद ही उन्हें वैक्सीन मिल पाएगी। लेकिन प्राइवेट अस्पतालों द्वारा उक्त वैक्सीनों को खरीदने में रूचि नहीं ली जा रही है।

इनका कहना है
18 प्लस के लोगों को जिले के प्राइवेट अस्पतालों में डोज लगेंगे। इसके लिए निजी अस्पतालों को कंपनियों से ही प्रिकॉशन डोज खरीदना है। वैक्सीन सेंटर से डोज नहीं मिलेंगे। उन्हें कंपनियों को आर्डर देना पड़ेंगे। अस्पतालों ने डोज के लिए आर्डर दिया या नहीं इस संबंध में पता करवाता हूं।
डॉ. जयसिंह कुशवाह, जिला टीकाकरण अधिकारी, हरदा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.