हरदा की कृषि भूमि सिंचिंत कर आइडियल जिला बनाउंगा

हरदा की कृषि भूमि सिंचिंत कर आइडियल जिला बनाउंगा

Sanjeev Dubey | Publish: Sep, 06 2018 11:16:20 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

- सिराली को नगर परिषद का दर्जा देने की घोषणा इसी महीने पूरी होगी, सिराली, खिरकिया, हरदा और टिमरनी में योत्रा का जोरदार स्वागत हुआ

हरदा/सिराली/टिमरनी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा गुरुवार को जिले में रही। सबसे पहले सिराली पहुंचे मुख्यमंत्री ने मंच सभा में हरदा का सिंचाई के मामले में प्रदेश का आइडियल जिला बनाने की घोषणा की। इस दौरान उन्होंने दो महीने पहले टिमरनी में की गई अपनी पूर्व घोषणा को पूरा करते हुए सिराली को इसी महीने नगर परिषद का दर्जा देने की बात भी कही। खिरकिया में भी सीएम ने सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए जनता का समर्थन मांगा।
तय समय से करीब ढाई घंटा देरी से सिराली पहुंचे मुख्यमंत्री चौहान ने विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार द्वारा कई विकास कार्य शुरू करने पर कांग्रेसी खीं-खीं कर हंसते हुए उनसे पूछते थे कि इतना पैसा कहां से आ रहा है। मुख्यमंत्री ने जनता से वादा किया कि जनता की समस्याओं को दूर करने में धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का विस्तार से बखान करते हुए कहा कि प्रदेश का विकास और जनता का कल्याण उनकी जिद, जुनून और जज्बा है। इसके पहले विधायक संजय शाह ने स्वागत भाषण दिया। सभा में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, सांसद ज्योति धुर्वे, प्रभारी मंत्री जालम सिंह पटेल, भाजपा जिला अध्यक्ष अमर सिंह मीणा, खिरकिया जनपद अध्यक्ष जगदीश सोलंकी आदि मौजूद रहे।

चप्पल से कैंसर होने की अफवाह उड़ा रहे कांग्रेसी
सिराली में मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को सरकार द्वारा दी गई चप्पलों के मुद्दे पर कांग्रेस को राजनीति नहीं करने की नसीहत देते हुए कहा कि यह सब कोरी अफवाह है। जांच के बाद ही चप्पलें बांटी गई थीं। तेंदूपत्ता संग्राहकों की सहूलियत का सरकार पूरा ध्यान रखेगी। अगले साल उन्हें फिर चप्पल सहित अन्य सामग्री नि:शुल्क दी जाएगी।

सीएम ने 7 करोड़ के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया
गुरुवार रात हरदा पहुंचने पर मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया गया। खेड़ीपुरा स्थित रविदास चौक से शुरू हुए रोड शो पर जगह-जगह पुष्पवर्षा की गई। रास्ते के घरों में दीप प्रज्ज्वलित किए गए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने शहर में नपा द्वारा ६ करोड़ ८६ लाख की लागत से कराए जाने वाले 79 निर्माण कार्यों का एकसाथ भूमिपूजन किया। नपाध्यक्ष सुरेंद्र जैन, पूर्व नपाध्यक्ष साधना जैन सहित अन्य भाजपाइयों ने मुख्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया। इस दौरान रथ सभा में मुख्यमंत्री चौहान ने सरकार की रीति-नीति समान बताते हुए कहा कि उन्होंने जनता से जो वादे किए वे पूरे हुए। उन्हें एक बार फिर आशीर्वाद देकर सेवा का अवसर दिया जाए। उन्होंने दोहराया कि शहर के विकास में धन की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

भाकिसं के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम से मुलाकात की
सिराली में हेलिपेड पर भारतीय किसान संघ के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। इस दौरान उन्हें 10 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन दिया गया। इसमें सिंचाई परियोजनाओं को पूर्ण कराने, अज्ञात बीमारी की चपेट में आई खरीफ फसलों से हुए नुकसान की भरपाई सहित अन्य मांगें की गई।

मसनगांव, चारखेड़ा और टिमरनी में भी हुआ स्वागत
खिरकिया से मुख्यमंत्री चौहान रथ में सवार हुए। इस दौरान मांदला, कांकरिया, मसनगांव, चारखेड़ा, टिमरनी व छिदगांव मेल में मुख्यमंत्री का जगह-जगह भव्य स्वागत किया गया।


रेलवे गेट खुलवाने केबिन में पहुंचे सुरक्षाकर्मी
चौकड़ी गांव में बने हेलिपेड से खिरकिया सभा स्थल आने के दौरान मुख्यमंत्री का काफिला गेट बंद होने से रुक गया। मुख्यमंत्री करीब आधा घंटे रेल्वे गेट पर ही फंसे रहे। गेट खुलवाने के लिए अधिकारी व सुरक्षा बल रेलवे केबिन पर भी पहुंचा। लेकिन एक के बाद एक गाड़ी होने के चलते गेट नही खुल सका।

सीएम को काले झंडे दिखाने जा रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने बालागांव में रोका, गिरफ्तार कर जेल भेजा
हरदा. किसान कांग्रेस द्वारा सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा के जवाब में गुरुवार को धिक्कार यात्रा निकाली गई। फसल बीमा लाभ की विसंगति को दूर कर सभी किसानों को राशि दिलाने, समर्थन मूल्य पर बेचे गए चने का सौ रुपए प्रति क्विंटल बोनस दिलाने, किसानों को मूंग और उड़द की प्रोत्साहन राशि अविलंब दिलाने, प्रोत्साहन योजना के पहले उपज बेच चुके किसानों को भी योजना का लाभ दिलाने व जिला सहकारी बैंक से मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार सहकारी समितियों द्वारा किसानों को शून्य प्रतिशत पर नकद ऋण एवं खाद उपलब्ध कराने की मांग को लेकर मगरधा के पास झिरी गांव से सुबह 9 बजे शुरू हुई यात्रा बूंदड़ा में दोपहर के भोजन के बाद जैसे ही आगे बड़ी पुलिस ने कांग्रेसियों को रोक दिया। बालागांव के आगे पहले से ही यात्रा रोकने की तैयारी में बैठी पुलिस और कांग्रेसियों के बीच इस दौरान नोकझोंक भी हुई। कांग्रेसी गुरुवार शाम हरदा पहुंचकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को काले झंडे दिखाने की तैयारी में थे। राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश संयोजक हेमंत टाले, कांग्रेस जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण पंवार, किसान कांग्रेस प्रदेश सचिव मोहन विश्नोई व जिलाध्यक्ष रविशंकर शर्मा, बद्री पटेल सांगवा सहित अन्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। समाचार लिखे जाने तक उन्हें नहीं छोड़ा गया।

युवक कांगे्रस कार्यकर्ता भी गिरफ्तार हुए
हरदा। इधर, पेट्रोल मूल्य वृद्धि के विरोध में मुख्यमंत्री को साइकल भेंट करने जा रहे युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जिला अध्य्क्ष धर्मेंद्र सिंह चौहान, योगेश चौहान, कृष्णा विश्नोई, वरुण जाट, मुजिद अली, मुकेश यादव, लोकेंद्र सूरमा, जिसान खान, भोला, रूपेश आदि ने गिरफ्तारी दी।

खिरकिया में भी हुई कांग्रसियों की गिरफ्तारी
मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा के विरोध की आशंका के मद्देनजर पुलिस ने खिरकिया में भी कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया। ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष शंकरसिंह सोलंकी सहित एक दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर हरदा भेजा गया।

विधायक को समर्थकों सहित गिरफ्तार किया
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए विधायक डॉ. आरके दोगने और उनके समर्थक जब सीएम को काले झंडे दिखाने के लिए शहर के चांडक चौराहा पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान कांग्रेसियों ने शिवराज वापस जाओ के नारे भी लगाए। सभी को जेल ले जाया गया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned