scriptCongress complained about the removal of long standing officers and e | कांग्रेस ने लंबे समय से जमे अधिकारी कर्मचारियों को हटाने के लिए शिकायत की | Patrika News

कांग्रेस ने लंबे समय से जमे अधिकारी कर्मचारियों को हटाने के लिए शिकायत की

locationहरदाPublished: Oct 22, 2023 01:38:53 pm

Submitted by:

Mahesh bhawre

हरदा.विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद शिकायत और आरोप प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। शुक्रवार को नर्मदापुरम रेंज के डीआईजी जेएस राजपूत हरदा आए।यहां रेस्ट हाउस में उन्होंने कांग्रेस जिलाध्यक्ष ओम पटेल और प्रवक्ता एडवोकेट गगन अग्रवाल के बयान दर्ज किए। डीआईजी कांग्रेस द्वारा पुलिस के अधिकारी कर्मचारियों की कार्यशैली व राजनीतिक दबाव में काम करने की शिकायतों के मामले में जांच व बयान के लिए आए थे।

Patrika Logo
पत्रिका लोगो
कांग्रेस ने यहां बीते 5 सालों में अलग अलग थानों में विभिन्न पदों पर रहे और अब फिर वापस पोस्टिंग हुए पुलिस अधिकारी कर्मचारियों की चुनाव आयोग को लिखित शिकायत की थी। इस मामले में शुक्रवार को डीआईजी हरदा आए। कांग्रेस ने छीपाबड़ एसडीओपी जेयू सिददीकी की शिकायत कर कहा वे पहले एसआई,फिर हंडिया में टीआई रहे। कांग्रेस ने बहुचर्चित दुर्गेश जाट हत्याकांड में उन पर लीपापोती का आरोप लगाते हुए कहा कि अब उन्हें छीपाबड़ में बतौर एसडीओपी पदस्थ् किया है। इसके अलावा मंत्री कमल पटेल को लेकर बीते दिनों शहर में लगे 70 फीसदी कमीशन की पोस्ट सोशल मीडिया पर डालने के मामले में बिना जांच किए पूर्व विधायक आरके दोगने के खिलाफ केस दर्ज करने वाले एसआई रिपुदमनसिंह राजपूत की भी शिकायत की थी। आरक्षक से लेकर एएसआई पद तक पदोन्नति के बाद भी जिले में ही सालों से पदस्थ सहायक उप निरीक्षक संतोष बामने और मनोज दुबे की भी शिकायत कर हटाने की मांग की गई। आरक्षक से अभी हवलदार बने भाजपा महिला पार्षद के भांजे तुषार धनगर की भी शिकायत की गई थी। एसपी संजीव कुमार कंचन को हटाने की मांग को लेकर की शिकायत में कहा गया कि क्षेत्र में अवैध जुआ,सटटा,गांजा एमडी पावडर बिकने व अनैतिक व्यापार की कई बार मौखिक शिकायतों पर भी संज्ञान नहीं लिया। छोटी हरदा में खुलेआम जुआघर की मौखिक शिकायत चुनाव से पहले तत्कालीन रेंज आईजी दीपिका सूरी से भी की गई,लेेकिन आज तक एसपी या थाना प्रभारी ने कार्रवाई नहीं की। एमडी पावडर पक़डाने के मामले में आज तक किसी गिरोह का खुलासा नहीं हो सका।
डीआईजी की मौजूदगी में जिलाध्यक्ष ओम पटेल व प्रवक्ता गगन अग्रवाल ने बयान दर्ज कराए।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.