नगर की बदहाल सड़कों पर आए दिन हो रहे हादसे

नगर की बदहाल सड़कों पर आए दिन हो रहे हादसे

sanjeev dubey | Publish: Sep, 11 2018 04:57:16 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

गड्ढों में तब्दील हुई नगर की सड़के, नगर पंचायत नहीं करा रही सड़कों की मरम्मत

टिमरनी. इन दिनों नगर के प्रमुख मार्गों सहित गलियों की सड़क बदहाल होने से लोगों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। नगर परिषद के चुनाव के दौरान सड़कों का कायाकल्प करने का दावा करने वाले अब जीतने के बाद इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है। पार्षद, नपं अध्यक्ष, विधायक, सांसद से लेकर प्रदेश एवं केन्द्र में भाजपा की सरकार की होने के बावजूद सड़क की हालात मेंं सुधार नहीं हो सका है। नगर की सड़कों को हर बार चुनावी मुद्दा भी बनाया जाता है। लेकिन चुनाव के बाद इस ओर ध्यान नहीं दिया जाता है। एक बार फिर चुनाव नजदीक आते ही सड़कों की दुर्दशा पर नेेता चर्चा कर नई सड़कें बनाने का बात करने लगे है। लेकिन जनता अब इस समस्या का वास्तव में हल चाहती है। नगर के कुछ सड़के तो गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। लेकिन नपं नई सड़क बनाना तो दूर इन गड्ढों में सीमेंट क्रांकीट एवं मुरूम का मलवा तक नहीं डला पा रही है।बरसात के दिनों में सड़कों के गड्ढों में पानी भराने कारण वाहन चालकों को समस्याएं ओर भी अधिक बढ़ जाती है। कई बार बाइक चालक दुर्घटना के शिकार भी हो जाते है। नगर के मंडी रोड, शीतला माता से बस्ती रोड, वार्ड नंबर एक और दो सहित अन्य कई सड़कों की हालात बद से बदतर हो गई है।

सड़क 2 - उत्कृष्ट सड़क पर हो रहे हादसे
नगर पंचायत द्वारा कृषि उपज मंडी रेन बसेरा के बाजू से गुजरने वाले मार्ग का निर्माण कर उत्कृष्ट सड़क का दर्जा दिया गया था। लेकिन अब यही सड़क हादसों की वजह बन रही है। इस आरसीसी सड़क में दरारे पडऩे से दो भागों बट गई है। वहीं मंडी गेट के समीप सड़क का एक हिस्सा ऊंचा एवं दूसरा हिस्सा काफी धंसकर काफी नीचे हो गया है। इससे दरारों में बाइक के पहिए फंसने एवं ऊंची नीची सड़क पर वाहनों के अनियंत्रित होने से आए दिन हो रहे है। विगत दिवस एक बाइक सवार युवक दुर्घटना का शिकार हो चुका है। बुधवार को भी एक शिक्षिका की स्कूटी फिसल जाने से वे बुरी तरह से घायल हो गई। जिन्हें इलाज के लिए हरदा ले जाया गया। इस दौरान वहां से गुजर रहे एसडीएम तहसीलदार सहित अन्य ने शिक्षिका को इलाज के लिए हरदा भिजवाया। लेकिन नगर पंचायत द्वारा सड़क की मरम्मत नहीं कराई जा रही है।

सड़क २- गड्ढों में तब्दील हुआ शीतल माता मंदिर से बस्ती
नगर में शीतला माता मंदिर से बस्ती रोड तक मार्ग गड्ढों में तब्दील हो चुका है। इससे वाहन चालकों को हादसे की आशंका बनी रहती है। कुछ स्थानों पर से गड्ढों के कारण वाहन निकालना तक मुश्किल हो जाता है। यहां पर भी वाहन चालक आए दिन दुर्घटना के शिकार हो रहे है। लेकिन नपं इन गड्ढों में मलवा तक नहीं डलवा पा रही है। नपं द्वारा बस स्टंैड से सूर्याटावर तक पेवर ब्लॉक लगाने का काम भी तक पूरा नहीं हो सका है। नागरिक ने कई बार गड्ढों को भरवाने की मांग कर चुके है। लेकिन नपं के जिम्मेदार अधिकारियों इस पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

सड़क ३- बायपास से निकलने में परहेज करते है वाहन चालक-
छिपानेर बायपास मार्ग पर सैकड़ों गड्ढे हो रहे है। इस वजह से वाहन चालक बायपास से निकलने में परहेज करते है। इस मार्ग पर पडऩे वाला रेलवे गेट अधिक समय तक बंद रहता है। गेट खुलने के लिए चालकों को लंबा इंतजार करना पड़ता है। मार्ग की हालात इतनी खराब है कि मजबूरी में इस मार्ग से रोजाना गुजरने वाले वाहनों के कलपूर्जे ही टूट फूट जाते है। गड्ढों में बारिश का पानी भरा जाने से उनकी गहराई का पता तक नहीं चल पाता है। इससे भी वाहन चालक दुर्घटनाग्रस्त हो जाते है। इस पर नपं का ध्यान नहीं है।

इनका कहना है-
छीपानेर बायपास मार्ग पीडब्लयूडी में आता है। उत्कृष्ट सड़क की मरम्मत करा दी जाएगी। शीतला मार्ग निर्माण की स्वीकृति के लिए टेंडर भोपाल भेजे गए है।
हरिओम दोगने, उपयंत्री, नपं टिमरनी

Ad Block is Banned