चौकड़ी सोसायटी ने चना खरीदी में ढाई करोड़ के बना दिए थे फर्जी बिल


- असल में चना बेचने वाले 544 किसानों को आज जारी होगा भुगतान

By: gurudatt rajvaidya

Published: 10 Jul 2020, 08:03 AM IST


पत्रिका लगातार
हरदा। जिला सहकारी बैंक खिरकिया शाखा से संबद्ध सहकारी समिति चौकड़ी में समर्थन मूल्य पर चना खरीदी के दौरान बनाए गए फर्जी बिलों का आंकड़ा ढाई करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। यह अंतिम आंकड़ा नहीं है। अगले तीन दिन में यह पता चलेगा कि कितने का फर्जीवाड़ा किया गया था। सहकारी बैंक के नोडल अधिकारी सतीष सिटोके ने बताया कि फर्जी बिलों के आधार पर चना खरीदी बताने का आंकड़ा करीब 5200 क्विंटल पर पहुंच गया है। समर्थन मूल्य ४८७५ रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से यह राशि २ करोड़ ५३ लाख ५० हजार रुपए होती है। सिटोके ने बताया कि समूची जांच प्रक्रिया से कलेक्टर अनुराग वर्मा को अवगत कराया जा रहा है। कलेक्टर वर्मा के आदेशानुसार पात्र ५४४ किसानों को उनकी २५ हजार ३१० क्विंटल उपज का १२ करोड़ ३३ लाख ८६ हजार २५० रुपए का भुगतान शुक्रवार से किया जाएगा। कलेक्टर के निर्देश पर इसके भुगतान आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि ५८ किसानों के नाम से बने २८०० क्विंटल चना के बिलों की जांच जारी है। कलेक्टर वर्मा ने तीन दिन में फाइनल जांच रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं।
पर्यवेक्षक की सूचना पर शुरू हुई थी जांच
ज्ञात हो कि सहकारी समिति चौकड़ी द्वारा बड़ी मात्रा में चना गोदाम में जमा नहीं कराया गया था। सहकारी बैंक के पर्यवेक्षक की रिपोर्ट पर मुख्यालय से जांच के आदेश जारी होने के बाद नोडल अधिकारी सतीष सिटोके ने 20 जून को इस मामले की शुरुआती जांच की थी। तब समिति के स्टाक में प्रथम दृष्टया 3611 क्विंटल की कमी सामने आई थी। सहकारिता विभाग के अनुसार सहकारी समिति चौकड़ी द्वारा ८५३ किसानों से करीब ३७००० क्विंटल चना खरीदा गया था। इसमें से २८९४४ क्विंटल ही जमा हुआ था। विभाग को 12 जून को खरीदी प्रक्रिया पर संशय हुआ था। तब तक ८०५६ क्विंटल परिवहन शेष था। इसके बाद भुगतान पर रोक लगा दी गई थी।

gurudatt rajvaidya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned