मुनाफाखोरी के खिलाफ पहली कार्रवाई बीड़ी और पाउच विक्रेता के खिलाफ!

- दल के मुखिया के मुताबिक शकर, तेल, दाल सहित अन्य खाद्य पदार्थ ज्यादा राशि में बेचने वाले पकड़ में नहीं आ रहे

By: gurudatt rajvaidya

Published: 08 Apr 2020, 08:03 AM IST

हरदा। लॉकडाउन के दौरान खाद्यान्न वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोत्तरी की सूचनाएं सोशल मीडिया पर आए दिन आने के बाद जिला प्रशासन द्वारा गठित दल रोज दुकानों का निरीक्षण तो कर रहा है, लेकिन ठोस कार्रवाई मंगलवार को पहली बार की गई। यह कार्रवाई भी खाद्यान्न वस्तुओं के बजाए बीड़ी और पाउस विक्रेताओं पर होने से आम उपभोक्ता को राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। जिला परिवहन अधिकारी जगदीश सिंह भील के नेतृत्व में गठित दल ने मंगलवार को पूनम पान भंडार घंटाघर के प्रोपायटर पूनम पिता नवल किशोर के खिलाफ कार्रवाई की। दल ने उसके जय शक्ति कॉलोनी स्थित घर पर छापा मारा। इस दौरान डमी ग्राहक को एमआरपी रेट से अधिक में राजश्री व विमल गुटखा बेचना पाया गया। इसी तरह प्रताप टॉकीज के पास स्थित शिवा किराना स्टोर्स पर प्रोपायटर शिवनारायण अग्रवाल के द्वारा बीड़ी बंडल का पैकेट एमआरपी ५०० के बजाए ५६० में बेचना पाया गया। यहां भी डमी ग्राहक भेजकर मुनाफाखोरी पकड़ी गई। दल दोनों स्थानों पर पंचनामा कार्रवाई की। सोमवार को दल राधे मेडिकल स्टोर्स पर कार्रवाई करने गया था, लेकिन वहां ताला लगा होने से दुकान को सील किया गया। जिला परिवहन अधिकारी भील के अनुसार मेडिकल दुकान को सीएमएचओ की मौजूदगी में खोलकर जांच की जाएगी। मंगलवार को यहां कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। खाद्यान्न वस्तुओं की बिक्री में मुनाफाखोरी के खिलाफ कार्रवाई के सवाल पर भील का कहना था कि ऐसे मामलों में ठोस सबूत की आवश्यता होती है। कोई भी ग्राहक ऐसा सामने नहीं आया जिससे अधिक राशि लेकर शकर, तेल, चावल, दाल आदि बेचा गया हो। जब उनसे यह पूछा गया कि खाद्यान्न वस्तुओं की बिकवाली में मुनाफाखोरी पकडऩे के लिए डमी ग्राहक क्यों नहीं भेजा जाता तो उनका कहना था कि ऐसा किया गया लेकिन दुकानदार द्वारा उसकी पहचान करने से सही रेट पर ही सामान दिया गया।
जिले में अन्य जगह एक भी प्रकरण नहीं बना
आरटीओ भील से यह पूछने पर की हरदा के अलावा अन्य कहां कार्रवाई हुई तो उनका कहना रहा कि सभी जगह निरीक्षण किए जा रहे हैं। सबूत के अभाव में मुनाफाखोरी का केस अभी कहीं नहीं बना है। हंडिया में पिछले दिनों एक्सपायरी डेट की खाद्य सामग्री फिकवाई गई थी।

gurudatt rajvaidya Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned