लोगों के तानों पर भारी प्रतिभा- नृत्य के लिए नरेन्द्र से भूमिका बनता है युवक

राजस्थानी वीडियो में निभा रहे मुख्य किरदार

By: gurudatt rajvaidya

Published: 19 Sep 2020, 08:01 AM IST

खिरकिया. जब बच्चे छोटे होते है, तो लड़कों को लकडिय़ों वाले कपड़े पहनाकर घरों में नृत्य कराया जाता है, लेकिन यही कार्य बड़े होने पर किया जाता है, तो लोग ताने मारते है। करीबी गांव पाहनपाट निवासी एक युवक ने लड़की बनकर नृत्य करने की अपनी कला से प्रसिद्धि भी प्राप्त की है। आज मप्र ही नहीं, दूसरे प्रदेशों में भी उनके नृत्य को पसंद किया जा रहा है। 19 वर्षीय नरेन्द्रसिंह राजपूत गणगौर कलाकर से आगे बढ़कर क्षेत्रीय म्यूजिक वीडियो में अपनी प्रतिभा और कला का जलवा बिखेर रहे है। नरेन्द्र के नृत्य की खासियत है कि वह अपने नृत्य में लड़की का किरदार निभाते है। लकड़ी के किरदार में ढलने के लिए कपड़े लेकर मेकअप कर शृंगारित भी होते है। इससे नरेन्द्र ने क्षेत्र व समाज में अपनी अलग पहचान बनाई है।
म्यूजिक वीडियो में मुख्य किरदार में नजर आएंगे नरेन्द्र-
नरेन्द्र के नृत्य की चर्चा क्षेत्र के बाद प्रदेश और अब दूसरे प्रदेशों में होने लगी है। इसके लिए उन्हें म्यूजिक वीडियो के आफर मिल रहे है। हाल ही में राजस्थानी बन्ना बन्नी गीत बन्ना थासु लागी म्हणे प्रीत में लीड रोल निभाया है। इसमें छीपाबड़ के 19 वर्षीय लोकेन्द्रसिंह पंवार बन्ना और नरेन्द्रसिंह राजपूत बन्नी यानि भूमिका सिंह का किरदार निभा रहे है,। गाने का ट्रेलर लांच किया जा चुका है।
भूमिका के नाम से भी पहचाने जाते है नरेन्द्र-
नृत्य के लिए किरदान बदलने वाले नरेन्द्र का नाम भी किरदार के साथ बदल जाता है। नरेन्द्र अब कही जाते है, तो उन्हें भ्ूामिका सिंह के नाम से भी पहचाना जाता है। नरेन्द्र ने बताया कि लड़कियों की तरह डांस करने का बहुत शौक था। छोटा था तब घर में अपनी दीदी के कपड़े पहन कर नृत्य करता था। बड़ा हुआ तो गणगौर जैसे कार्यक्रम से लगाव होने लगा। फिर उन्होंने इसे ही पेशा व शौक दोनों बना लिया। प्रारंभ में लोगों के ताने भी सुनने मिले। गणगौर के अलावा कई स्थानों पर छोटे छोटे शो भी किए। लोगों के तानों पर ध्यान नहीं दिया। केवल अपने लक्ष्य पर ध्यान दिया और आज अपनी प्रतिभा के बूते वह मुकाम भी हासिल किया। इसमें अपने परिवार और दोस्तों का साथ मिला। परिवार के बाद इनके मित्र मुकेश सिंह, प्रदूयम गुर्जर, देवेश सिंह, लोकेन्द्र सिंह, सागर सिंह चौहान ने सहयोग किया।

gurudatt rajvaidya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned