scriptIf electric vehicle is charged, then a case of theft will be made | घरेलू बिजली से व्यावसायिक इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज किया तो बनेगा चोरी का केस | Patrika News

घरेलू बिजली से व्यावसायिक इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज किया तो बनेगा चोरी का केस

जिले में 306 ई-बाइक, 14 ई-रिक्शा, कहीं भी नहीं अलग बिजली कनेक्शन

हरदा

Published: May 22, 2022 12:48:41 am

हरदा. यदि आपके खुद के पास और परिवार में अगर कोई इलेक्ट्रिक वाहन है तो उसे अलग से चार्ज करने के लिए बिजली कनेक्शन लेने की जरुरत नहीं है। इन्हें घरेलू बिजली से चार्ज किया जा सकता है। साथ ही बिजली कंपनी को उन्हें अलग से कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं चुकाना पड़ेगा। घरेलू उपयोग वाले या इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने में जितनी बिजली उपयोग होगी, वाहन मालिक को उतना ही बिल चुकाना होगा। ई-रिक्शा अथवा ऐसे कोई आय का साधन वाले इलेक्ट्रिक वाहन जो चार्ज करने के लिए बिजली कंपनी से अलग से बिजली कनेक्शन होगा। अगर ऐसे वाहन चालक घरेलू बिजली से वाहनों को चार्ज करते हुए मिलेंगे तो उनके विरुद्ध बिजली चोरी का प्रकरण बनेगा। अभी जिले में कोई भी अलग कनेक्शन नहीं है। मामले को लेकर बिजली कंपनी के जेई उपेंद्र मीणा ने कहा कि व्यावसायिक इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्जिंग करने के लिए अलग से बिजली कनेक्शन लेना होगा। घरेलू बिजली से वाहन चार्जिंग करते मिलने पर बिजली चोरी का प्रकरण बनाया जाएगा। चार्जिंग स्टेशन के लिए टैरिफ एलवी-6 लागू किया गया है। जो लोग चार्जिंग स्टेशन शुरू करना चाहते हैं उन्हें बिजली कनेक्शन लेना पड़ेगा।

घरेलू बिजली से व्यावसायिक इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज किया तो बनेगा चोरी का केस
घरेलू बिजली से व्यावसायिक इलेक्ट्रिक वाहन चार्ज किया तो बनेगा चोरी का केस

सिंगल को तीन फेज बिजली कनेक्शन कराना पड़ेगा
जानकारी के अनुसार, घर में घरेलू उपयोग के लिए इलेक्ट्रिक चार पहिया वाहन है तो वह सिंगल फेज घरेलू कनेक्शन से चार्ज नहीं होगा, उसके लिए सिंगल फेज घरेलू बिजली कनेक्शन को तीन फेज वाला कनेक्शन करवाना पड़ेगा। बिजली कंपनी ने ऐसे वाहनों को सभी तरह के शुल्क मिलाकर 6 रुपए प्रति यूनिट दर निर्धारित की है। इसमें किसी भी प्रकार सब्सिडी का लाभ वाहन मालिकों को नहीं मिलेगा। जबकि ई-रिक्शा, मोटरसाइकिल, स्कूटी वाहन सिंगल फेज कनेक्शन से चार्ज हो सकते हैं। वाहन मालिकों को बिजली कनेक्शन का लोड बढ़वाने की आवश्यकता नहीं है।

बिजली कंपनी ने जारी की गाइडलाइन
विद्युत वितरण कंपनी के जेई उपेंद्र मीणा ने बताया कि मप्र मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण भोपाल ने इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए गाइडलाइन जारी की है। इसके तहत कंपनी ने ई-वाहन, ई-रिक्शा वाहन के लिए पृथक से चार्जिंग स्टेशन का टैरिफ एलवी-6 लागू किया गया है। उन्होंने समस्त वाहन मालिकों से कहा कि ऐसे वाहनों को चार्ज करने के लिए टैरिफ अनुसार कनेक्शन प्राप्त करें। मीणा ने कहा कि अगर कोई ई-वाहन या ई-रिक्शा घरेलू कनेक्शन से चार्ज करते पाए जाएंगे तो उन पर कार्रवाई करते हुए बिजली चोरी का प्रकरण बनाया जाएगा।

शहर में बनाए जाएंगे चार्जिंग स्टेशन
उल्लेखनीय है कि शहर में लगातार बढ़ते इलेक्ट्रिक वाहनों को देखते हुए कंपनी ने शहर में चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना बनाई है। जो लोग वाहन चार्ज करने के लिए अलग से बिजली कनेक्शन नहीं ले पाएंगे, वे इन चार्जिंग स्टेशनों पर वाहन चार्जिंग करा सकेंगे। इसके लिए वाहन चालकों को वाहन को चार्ज करने में खर्च होने वाली बिजली प्रति यूनिट दर के अनुसार पैसे चुकाना होगा ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

हैदराबाद में आज से शुरू हो रही BJP की कार्यकारिणी बैठक, प्रधानमंत्री मोदी कल होगें शामिल, जानिए क्या है बैठक का मुख्य एजेंडाDelhi News Live Updates: दिल्ली में आज भी मेहरबान रहेगा मानसून, आईएमडी ने जारी किया बारिश का अलर्टLPG Price 1 July: एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता, आज से 198 रुपए कम हो गए दामJagannath Rath Yatra 2022: देशभर में भगवान जगन्नाथ रथयात्रा की धूम, अमित शाह ने अहमदाबाद में की 'मंगल आरती'Kerala: सीपीआई एम के मुख्यालय पर बम से हमला, सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपीRBI गवर्नर शक्तिकान्त दास बोले- खतरनाक है CryptocurrencyIND vs ENG Test Live Streaming: दोपहर 3 बजे से शुरू होगा टेस्ट, जानें कब, कहां और कैसे देख सकते हैं मैचइंग्लैंड के खिलाफ T-20 और वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, शिखर धवन सहित दिग्गजों की वापसी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.