बिना नंबर के डंपरों से हो रहा अवैध गिट्टी, मुरम का परिवहन

खनिज विभाग अथवा पुलिस द्वारा नहीं की जा रही है कार्रवाई, दुर्घटना के बाद वाहनों की पहचान करना मुश्किल

By: sanjeev dubey

Published: 19 Jan 2019, 07:00 AM IST

खिरकिया. लगातार हो रही दुर्घटनाओं के बाद भी भारी वाहनों की मनमानी थमी नहीं है। क्षेत्र में सड़कों पर दौड़ रहे डंपरों मापदंडों पर तो खरे नहीं उतर रहे हैं, वहीं नियमों को भी दरकिनार कर रहे हैं। भारी भरकम व क्षमता से अधिक भरकर डंपरों से तो परिवहन हो ही रहा है, वहीं बिना नंबर के वाहनों का संचालन हो रहा है। जानकारी के अनुसार विभिन्न क्रेशर खदानों से गिट्टी, मुरुम व अन्य भू संपदा का परिवहन करने वाले डंपरों में नंबर नही हंै। डंपर संचालकों द्वारा बिना नंबर के ही वाहन सड़कों पर दौड़ाए जा रहे हंै। जिस पर प्रशासन का ध्यान नहीं है। जब डंपरों में नंबर ही नहीं है, तो अन्य मापदंड व दस्तावेज कैसे पूरे होंगे, यह भी अंदाजा लगाया जा सकता है। वहीं डंपर संचालक जान बूझकर अवैध परिवहन करने के लिए बिना नंबर के डंपरों का प्रयोग कर रहे हंै।

स्टेट हाइवे पर दौड़ रहे बिना नंबर के डंपर
ग्रामीण क्षेत्रों के मार्गों पर तो यह डंपर बेलगाम दौड़ ही रहे है, लेकिन स्टेट हाइवे पर भी खुलेआम बिना नंबर के डंपरों का संचालन हो रहा है। होशंगाबाद-खंडवा स्टेट हाइवे पर प्रतिदिन बिना नंबर के डंपरों का आवागमन देखा जा सकता है। बड़ी संख्या में रोजाना स्टेट हाइवे से डंपरों का परिवहन होता है। खुलेआम बिना नंबर से संचालित हो रहे डंपरों पर रोकथाम के लिए प्रशासन जागरुक नहीं है। ऐसी स्थिति में कोई दुर्घटना होती है, तो इसका जिम्मेदार भी पकड़ में नहीं आ सकेगा। कई बार दुर्घटनाओं को अंजाम देकर नंबर के अभाव में डंपर चालक व संचालक बच निकलते हैं। ऐसे में इन पर नकेल कसे जाने की आवश्यकता है।

भयभीत रहते हैं ग्रामीण
स्टेट हाइवे पर स्थित ग्रामों के रहवासी इन डंपरों के संचालन से भयभीत रहते हंै। विकासखंड में पोखरनी, मुहाल, मांदला सहित अन्य ग्राम स्टेट हाइवे पर स्थित ग्राम है।इन गांवों से होकर डंपर गुजरते हैं, जिससे दुघर्टना के भय के चलते ग्रामीण हमेशा भयभीत रहते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि स्टेट हाइवे से प्रतिदिन बड़ी संख्या में डंपरों का आवागमन होता है, लेकिन इन पर कोई कार्यवाही नहीं की जाती है। डंपर कहां के, कहां से संचालित हो रहे हैं और कौन सी एजेंसी के हैं, लेकिन इस संबंध में कोई जानकारी नहीं होती है।

इनका कहना है
अवैध गिट्टी, मुरुम परिवहन करने वाले बिना नंबर के डंपरों पर कार्रवाई करने के लिए जल्द अभियान शुरू किया जाएगा। ऐसे वाहनों पर रोक लगाई जाएगी।
राजेश साहू, टीआई, खिरकिया

Show More
sanjeev dubey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned