आम के आम, गुठलियों के दाम- सच हुई यह कहावत, यहां बिकती है आम की गुठली

बिकती है आम की गुठली

By: बृजेश चौकसे

Published: 01 Jul 2019, 10:04 AM IST

हरदा
आम के आम, गुठलियों के दाम- अब यह महज कहावत नहीं रही, बल्कि वास्तव में ऐसा होने जा रहा है। जिले में अब आम की गुठली भी खरीदी जा रही है। इतना ही नहीं, गुठलियों के दाम भी खासे अच्छे तय किए जा रहे हैं। जिले की छिदगांव तमोली सोसायटी ने यह काम शुरू किया है। सोसाइटी आम के साथ ही अचार ,आंवले और जामुन की गुठलियां भी खरीदेगी।

वृक्षों पर ऋण देने की योजना बनाकर चर्चा में आयी छिदगांव तमोली की ग्रामीण विकास सहकारी साख समिति ने एक और बड़ा काम किया है। सोसायटी के संचालकों ने आम,अचार ,आंवले और जामुन की गुठलियां खरीदने का निर्णय लिया है। इसी के साथ सोसाइटी नीम की निंबोली, इमली ,टेंमरू,सागौन के बीज भी खरीदेगी।

गुठलियों की गुणवत्ता के आधार पर संचालक मंडल मूल्य निर्धारित करेगा

समिति के अध्यक्ष अशोक गुर्जर ने बताया कि जिले में पहले अचार , टेमरू और जामुन के वृक्ष बहुतायत में थे पर धीरे-धीरे इनकी संख्या बहुत ही कम हो गई। अचार और टैमरू तो विलुप्त होने की कगार पर है। अब भी हम नहीं जागे तो हम आने वाली पीढ़ी को सिर्फ तस्वीरों में ही अचार और टेमरू बता पाएंगे। इसलिए आम और अचार जैसे पारंपरिक खाद्य फलों के वृक्षों को बचाने की मुहिम चलाई जा रही है। इसके लिए छिदगांव तमोली में इन फलों की नर्सरी तैयार करवाई जा रही है ताकि मांग पर ये किसानों को उपलब्ध करवाई जा सके। सोसायटी में बीजई लायक गुणवत्ता वाली आम आदि फलों की गुठलियां खरीदेगें और जो किसान इन्हें लेना चाहेगा उन्हें देंगे। बीजयुक्त गुठलियों की गुणवत्ता के आधार पर संचालक मंडल मूल्य निर्धारित करेगा।

नीम की निंबोली, इमली ,टेंमरू,सागौन के बीज भी खरीदेगी सोसायटी

समिति प्रबंधक उत्तम सिंह राजपूत ने बताया कि सभी प्रकार की सूखी एवं अकुंरण क्षमतायुक्त गुठलियां खरीदी जाएंगी। सोसायटी नीम की निंबोली, इमली ,टेंमरू,सागौन के बीज भी खरीदेगी।

बृजेश चौकसे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned