5 साल सेवा देने बाद भी पूर्व सरपंच व जपं सदस्यों को नहीं मिला मानदेय

sanjeev dubey

Publish: Dec, 07 2017 06:04:09 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
5 साल सेवा देने बाद भी पूर्व सरपंच व जपं सदस्यों को नहीं मिला मानदेय

लंबे समय से मानदेय के का इंतजार कर रहे जनप्रतिनिधि विकासखंड में सरपंच जपं सदस्यों का बकाया है करीब 22 लाख रूपए

खिरकिया. विकासखंड की ग्राम पंचायतों से पिछली पंचायत चुनाव में चुने गए सरपंचों एवं जनपद सदस्यों को अभी तक मानदेय नहीं मिल रहा है। इससे उन्हें आर्थिक परेशानी से जूझना पड़ रहा है। ग्राम पंचायत के पूर्व सरपंच एवं जपं के पूर्व सदस्यों को शासन द्वारा प्रतिमाह निश्चित मानदेय दिए जाने का प्रावधन है। लेकिन विकासखंड के पूर्व जपं सदस्यों एवं सरपंचों को मानदेय नहीं मिल रहा है। ऐसे में कुछ सरपंचों को गुजर बसर के लिए मजदूरी तक करनी पड़ रही है, वहीं कई सरपंच जपं सदस्य तंगहाली में जीवन व्यतीत कर रहे है।

15 माह से मानदेय के इंतजार में पूर्व जनप्रतिनिधि-
पूर्व सरपंच एवं जपं सदस्यों को जनपद पंचायत के माध्यम से वेतन का भुगतान किया जाता है, लेकिन उन्हें विगत 15 माह से मानदेय नहीं मिला है, जबकि वर्तमान सरपंचों एवं जनपद पंचायत सदस्यों को वेतन का भुगतान किया जा रहा है। इसको लेकर कई बार पूर्व सरपंच एवं जपं सदस्यो द्वारा जपं मे शिकायते भी की गई, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। कम मानदेय होने के बावजूद भी वह उन्हें प्राप्त नहीं हो रहा है। कई ऐसे सरपंच है, जिनके वेतन के अभाव में महत्वपूर्ण कार्य नहीं हो रहे है। 1५ माह बीत जाने के बाद भी विभाग द्वारा इनकी सुध नही ली जा रही है। इससे प्रतीत होता है कि जनप्रतिनिधि पद पर नहीं रहने के बाद उनकी अहमियत भी कम हो जाती है। जनपद पंचायत के 6 7 में से महज 3 पूर्व सरपंचों को भुगतान किया गया है, जिन्होंने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर शिकायत की थी, शेष को वेतन का इंतजार है।
लाखों रूपए बकाया, कब होगा भुगातन -
जपं सदस्य एवं सरपंचों के मानदेय के लाखों रूपए बकाया है, लेकिन इसका भुगतान कब होगा, यह कोई बताने को भी तैयार नहीं है। विकासखंड अंतर्गत 6 7 ग्राम पंचायत के 6 4 सरपंच एवं 24 जपं सदस्यों का मानदेय का भुगतान नहीं हुआ। प्रत्येक पूर्व सरपंच को 1750 एवं जपं सदस्य को 1500 रूपए प्रतिमाह मानदेय निश्चित है, लेकिन 15 माह से उन्हें भुगतान नही मिलने पर यह राशि लाखों में पहुंच गई है। इस दर से प्रतिमाह सभी सरपंचो को 1 लाख 12 हजार एवं जपं सदस्यों को 36 हजार रूपए का भुगतान होता है, लेकिन 15 माह से यह बकाया होने के चलते अब सरपंचों का 16 लाख 8 0 हजार और जपं सदस्यों का 5 लाख 40 हजार रूपए भुगतान का बकाया हो गया है। ऐसे में अब भुगतान किया जाता है तो एक पूर्व सरपंच को 26 हजार 250 एवं जपं सदस्य को 22 हजार 500 रूपए का भुगतान होगा, जिससे उनके कई महत्वपूर्ण कार्य व लेन देन निपट सकते है।
इनका कहना
पूर्व सरपंचों एवं जपं सदस्यों को 15 माह से मानदेय का भुगतान नहीं किया गया है। इसको लेकर सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की गई है। विभाग द्वारा पूर्वजनप्रतिनिधियों की उपेक्षा की जा रही है।
राघवेन्द्र राजवैद्य, पूर्व सरपंच संद्य ब्लाक खिरकिया
आवंटन के अभाव में पूर्व सरपंच एवं जपं सदस्यों का १५ माह के मानदेय का भुगतान नहीं हो पाया है। मामले से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। राशि आवंटित होते ही भुगतान करा दिया जाएगा।
शिव सोलंका, सीईओ, जपं खिरकिया

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned