अब किसानों को नई सुविधा: व्हाट्सअप पर फसल की फोटो भेजें तुरंत मिलेगा समाधान, प्रदेश की पहली फसल ओपीडी शुरू

किसान बंधु कीट-व्याधि युक्त फसल का फोटो व्हाट्सअप पर भेजकर मोबाइल पर ही अब निदान के उपाय जान सकते हैं।

By: Pawan Tiwari

Published: 28 Jan 2021, 09:56 AM IST

हरदा. मध्यप्रदेश में सबसे पहली कृषि ओपीडी का बुधवार को कृषि मंत्री कमल पटेल ने शुभारंभ किया। इसके साथ प्रदेश के किसानों को नई सुविधाएं मिल गई हैं। किसान अब अपने फसल की फोटो भेजकर फसल की बीमारी का निदान पा सकेंगे। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि किसान बंधु कीट-व्याधि युक्त फसल का फोटो व्हाट्सअप पर भेजकर मोबाइल पर ही अब निदान के उपाय जान सकते हैं।

मंत्री पटेल ने कृषि विज्ञान केन्द्र, कोलीपुरा (हरदा) में संबोधित करते हुए किसानों से कहा कि कृषकों को उनकी फसल में लगने वाली कीट-व्याधि की पहचान तथा त्वरित उपचार के उपाय मोबाइल पर उपलब्ध कराने के लिये ही प्रदेश की पहली ओपीडी का शुभारंभ किया जा रहा है। उन्होंने कृषि वैज्ञानिकों तथा कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रत्येक गाँव में किसान चौपालों का आयोजन कर फसल ओपीडी की जानकारी प्रदान करें।

किसानों की फसलों में लगने वाली कीट-व्याधियों से संबंधित समस्याओं का समाधान चौपालों में ही करें। पटेल ने कृषि वैज्ञानिकों एवं कृषि अधिकारियों को रबी एवं खरीफ की फसलों में लगने वाली बीमारियों एवं उनके उपचार बावत कैलेण्डर तैयार करने के निर्देश भी दिये। मंत्री पटेल ने कृषकों से अनुरोध किया कि भूमि की उर्वरा शक्ति को बचाये रखने के लिये धीरे-धीरे रासायनिक खेती को जैविक खेती में अंतरित करें। पटेल ने निर्देशित किया कि सभी जिलों में स्थित कृषि विज्ञान केन्द्र फसलों के उपचार के लिये फसल ओपीडी को शीघ्रता से प्रारंभ करें।

Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned