जॉयफुल लर्निग बैठक में अनुपस्थित होना पड़ा महंगा

जॉयफुल लर्निग बैठक में अनुपस्थित होना पड़ा महंगा

Sanjeev Dubey | Publish: Apr, 17 2018 10:28:23 AM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

बैठक में ७ जनशिक्षा केन्द्रों के ३२ प्रधानपाठक रहे नदारद

टिमरनी. जॉयफुल लर्निग से संबंधित जानकारियां देने की मंशा से सोमवार को विकासखंड के 8 से 7 जनशिक्षा केन्द्रों पर बैठक प्रधानपाठकों की बैठक आयोजित की गई। लेकिन बैठक में कई स्कूल के प्रधानपाठक नहीं पहुंचे। अब अनुपस्थित प्रधानपाठकों को विभाग द्वारा नोटिस जारी कारण पूछा जाएगा। जानकारी के मुताबिक जनशिक्षा केन्द्र कन्याशाला टिमरनी, कन्या रहटगांव, करताना, टेमागांव, फुलड़ी बालक, रहटगांव बालक टिमरनी व सोडलपुर में सोमवार को प्रधानपाठकों की बैठक हुई। जिसमें कई स्कूलों के प्रधान पाठक नदारद रहे। महत्वपूर्ण बैठक में प्रधानपाठकों की अनुपस्थिति से सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि वे जॉयफुल लर्निग के प्रति कितने सचेत है। जब प्रधानपाठक ही इसमें रूचि नहीं ले रहे तो उनके अधिनिस्थ काम करने वाले शिक्षकों को स्थिति क्या होगी। ऐसे में सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार की गुजांइश भी खत्म होती नजर आती है। बैठक में शिक्षा की गुणवत्ता, जॉयफुल लर्निग किट का उपयोग, कक्षा पहली एवं छटवीं में प्रवेश के लक्ष्य की जानकारी सहित अन्य बिन्दुओं पर चर्चा की गई। बीआरसी कार्यालय में पदस्थ पीएस अहिरवार ने बताया समीक्षा बैठक में अनुपस्थित प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं के प्रधानपाठको को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। जबाव संतुष्ट नहीं मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

32 शालाओं के प्रधान पाठक रहे अनुपस्थित-
जॉयफुल लनिग को सोमवार को 7 जनशिक्षा केन्द्रों पर ुहुई अलग अलग समीक्षा बैठकों में 273 प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं के प्रधान पाठक उपस्थित हुए। जबकि 32 शालाओं के प्रधानपाठक बिना किसी सूचना के अनुपस्थित रहे। जानकारी के अनुसार विकासखंड में 174 प्राथमिक एवं 99 माध्यमिक शालाएं है। कन्या शाला टिमरनी के अंतर्गत 20 प्राथमिक शाला व कन्या रहटगांव में 21 शालाओं के प्रधान पाठकों में से 4 अनुपस्थित रहे। करताना में 23 शालाएं व फुलड़ी में 23 शालाओं मे से 6 शालाओ के प्रधान पाठक अनुपस्थित रहे। बालक रहटगांव मे ं25 शालाओ मे से 1 प्रधानपाठक अनुपस्थित , बालक टिमरनी की 13 प्राथमिक शालाओं में से 2 शालाओं के प्रधानपाठक अनुपस्थित, सोडलपुर 17 प्राथमिक शालाएं में से 13 शालाओं के प्रधानपाठक अनुपस्थित रहे।

माध्यमिक शालाओं 19 प्रधानपाठक रहे अनुपस्थित-
विकासखंड मे 99 माध्यमिक शालाएं संचालित है। टेमागांव जनशिसा केन्द्र को छोड़कर सभी 7 केन्द्रों की बैठक में कन्या टिमरनी की 15 माध्यमिक शालाओ में से 2 शालाओं के प्रधानपाठक अनुपस्थित रहे। कन्या रहटगांव की 10 शालाओं में से 2 प्रधानपाठक, फुलड़ी में 14 में से 6 शालाओं के प्रधानपाठक , बालक रहटगांव की 12 शालाओं में से 7 शालाओ के प्रधानपाठक, बालक टिमरनी की 11 में से 1 शाला के प्रधानपाठक सोडलपुर की 8 में से 1 शाला के प्रधानपाठक अनुपस्थित थे। जिन्हें नोटिस जारी किए जाएंगे।

अटेचमैंट पर नही लग रहा ब्रेक-
विकासखंड के कुछ शासकीय स्कूलों में वैसे ही शिक्षकों की कमी है। इसके बावजूद भी वहां के शिक्षकों को अन्य शासकीय विभागों में अटैच कर दिया गया है। इससे उन स्कूलों के बच्चों की पढ़ाई पर विपरित असर पड़ रहा है। लेकिन विभाग द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

इनका कहना है-
बैठक में अनुपस्थित प्रधानपाठकों को कारण बताओं नोटिस जारी किए जाएंगे। संतोषजनक जबाव नहीं मिलने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
पीएस अहिरवार, बीआरसी कार्यालय टिमरनी

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned