रहटगांव में ८ वर्षों से हो रहा सार्वजनिक गणगौर उत्सव का आयोजन

होली घाट पर पूजा अर्चना कर हुई कार्यक्रम की शुरूआत

By: बृजेश चौकसे

Published: 19 Mar 2020, 01:01 PM IST

रहटगांव. गांव सहित क्षेत्र में गणगौर महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। 18 से 26 मार्च तक 9 दिन तक चलने वाले इस महोत्सव में मां रनु बाई एवं धनियर राजा की धूम रहेगी। रहटगांव में विगत 8 वर्षों से सार्वजनिक रूप से गणगौर महोत्सव मनाया जा रहा है बुधवार को खड़ा रखना एवं स्थापना कार्यक्रम हुआ। पुरूष एवं महिलाएं पूजन के लिए स्थानीय होली घाट पहुंचे। जहां पर पूजन कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर प्रांगण में मां का दरबार सजाया गया है। जिसमें रात्रि में मंडलियों द्वारा प्रस्तुतियां दी जा रहीं है। उत्सव का आयोजन ग्रामवासियों के सहयोग से सार्वजनिक रूप से किया जाता है। इस बार मां गणगौर पावनी के रूप में जीवनराम गौर गुरु बाबा के यहां एवं लव कुश गौर के यहां आई है। दोपहर में महिलाएं पाती खेलने के लिए एकत्रित हुई। करीबी ग्राम छिरपुरा में भी गणगौर उत्सव आयोजित किया जा रहा है। मां गणगौर पावनी के रूप में लाला पाटिल के यहां पर आई है। यहां पर भी मां का दरबार आकर्षक दरबार सजाया गया है।
-------
खड़ा स्थापना के साथ हुई गणगौर उत्सव की शुरूआत
महेन्द्रगांव. गांव में गणगौर उत्सव की शुरूआत धूमधाम से हुई। बाजार चौक स्थित होलिका स्थान पर पूजा अर्चना कर नामदेव परिवार ने ज्वारे बोये। गणगौर के जस के साथ महिलाओं एवं पुरुषों द्वारा मातारानी के झालरे दिए। नौ दिवसीय गणगौर उत्सव में पुरुष मंडलियों द्वारा गीतों के साथ झालरे, स्वांग आदि कार्यक्रम पेश किए जा रहें है। गांव में खड़ा स्थापना कर सत्यनारायण नामदेव के मातारानी की पावनी बुलाई गई है। पर्व की व्यापक रूप से तैयारियां की गई हैं। परिवार की बहन-बेटियां गोरनियां बनी। मातारानी की पूजा अर्चना के बाद प्रसाद वितरित किया गया।

बृजेश चौकसे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned