विभागीय मंत्री ने दिया जवाब, जांच में नहर लाइनिंग का कार्य गुणवत्तापूर्ण पाया गया

विभागीय मंत्री ने दिया जवाब, जांच में नहर लाइनिंग का कार्य गुणवत्तापूर्ण पाया गया

sanjeev dubey | Publish: Dec, 07 2017 08:21:54 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

विधायक संजय शाह ने विस में नहरों के संबंध में किया था प्रश्न

टिमरनी. विधायक संजय शाह ने विधानसभा में नहरों के बारे प्रश्न किया। जिसके जबाव में विभागीय मंत्री ने जबाव दिया कि निर्माणाधीन नहरों के संबंध में गुणवत्ताहीनता के लेकर शिकायत प्राप्त हुई थी। जिसकी जांच मुख्य अभियंता जल संसाधन विभाग होशंगाबाद द्वारा 23 व 24 जुलाई 2017 को हो चुकी है। जो कि गुणवत्ता पूर्ण है।
हरदा जिले में 3 नहरों का पक्कीकरण की स्वीकृती प्रदाय की गई थी। जिसमें से जल संसाधन हरदा अंतर्गत 2 नहरें तथा हंडिया शाखा नहर संभाग टिमरनी अंतर्गत 1 नहर सम्मिलित हैं। बांई तट मुख्य नहर 128 .50 किमी के मध्य नहर के पक्कीकरण की अनुबंधित राशि 7254.49 लाख है। कार्य पूर्ण करने की समयावधि 27 जनवरी 2019 निर्धारित है। आमाखाल तालाब योजना की नहर प्रणाली का पक्कीकरण 113.01 लाख की लागत से माह जनवरी 2015 में पूर्ण हो चुका है। हंडिया शाखा की 55.50 किमी के मध्य नहर पक्कीकरण की अनुबंध राशि 8 544.06 लाख है पूर्ण होने की अवधि 28 जनवरी 2019 निर्धारित है। बायीं तट मुख्य नहर की सीमेंट कांक्रीट लाइनिंग का कार्य कुल लंबाई 38.268 में से 38.070 किमी पूर्ण हो चुका है। 0.198 किमी शेष है आमाखाल तालाब योजना सीमेंन्ट कांक्रीट लाइनिंग का कार्य कुल लंबाई 8.8 9 है जो पूर्ण है।
हंडिया शाखा नहर की सीमेंट कांक्रीट का कार्य 55.50 में से 40.758 पूर्ण हो चुका है तथा 14.742 किमी शेष है। नहर की गुणवत्ता से संबंधित कार्य विभाग द्वारा मुख्य अभियंता बोथी जल संसाधन विभाग भोपाल कार्यालय के द्वारा की जाती है। जो कि मापदंड अनुसार गुणवत्ता पूर्ण है।

सर्मथन मूल्य पर विक्रय मंूग फसल का पैसा किसानों को क्यों नहीं मिला?
हरदा. विधायक डॉ. रामकिशोर दोगने ने मप्र विधानसभा के शीतकालीन सत्र में किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री गौरीशंकर बिसेन से किसानों को सर्मथन मूल्य पर विक्रय मंूग फसल का पैसा नहीं मिलने के संबंध में प्रश्न किए। विधायक डॉ. दोगने ने कहा कि समर्थन मूल्य पर किसानों द्वारा बेची गई मूंग की राशि नहीं मिली। जिले के कितने किसानों को कितना भुगतान किया गया। किसानों को कब तक राशि मिलेगी।जिस पर मंत्री बिसेन ने जवाब दिया कि वर्ष 2017 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित मंूग हरदा जिले में 3 लाख 57 हजार 6 6 4.15 क्विंटल मात्रा, 15195 किसानों से राशि 1 अरब 8 6 करोड 8 7 लाख 9518 3.75 रुपए का उपार्जन किया गया। जिसका संपूर्ण भुगतान समितियों के माध्यम से कर दिया गया है। समर्थन मूल्य पर उपार्जित मंूग का पूर्ण भुगतान हरदा जिले में समितियों के माध्यम से किसानों को कर दिया गया है। भुगतान होना शेष नहीं है। किसानों को पूर्ण राशि का भुगतान करने की बात मंत्री बिसेन द्वारा कही गई।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned