scriptrelief to farmers | किसानों को राहत, उपार्जन पंजीयन के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान | Patrika News

किसानों को राहत, उपार्जन पंजीयन के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान

कृषि विभाग ने पंजीयन समस्या सुधारने ली बैठक, किसानों की समस्या हल कराने कलेक्ट्रेट में बनाया कंट्रोल रूम

हरदा

Published: February 17, 2022 12:38:36 am

हरदा. जिले के किसान गेहूं व चना फसल के उपार्जन के लिए प्राइवेट केंद्रों पर पंजीयन कराने के लिए परेशान हो रहे हैं। पत्रिका ने बुधवार को केंद्रों पर पंजीयन नहीं होने से किसान परेशान शीर्षक से खबर का प्रकाशन कर किसानों की समस्याओं को उठाया। जिस पर कृषि विभाग के उप संचालक एमपीएस चंद्रावत ने ध्यान देते हुए एआरसी एस वासुदेवसिंह भदौरिया, सहायक संचालक संजय यादव के साथ बैठक की, ताकि किसानों का पंजीयन आसानी हो सके। उन्होंने किसानों की समस्या का हल करने के लिए कलेक्टर कार्यालय में स्थित खाद्य विभाग में कंट्रोल रूम स्थापित कराया, जिसका मोबाइल नंबर 997707698 7, 9424018 615 है। कृषि विभाग के सहायक संचालक अखिलेश पटेल ने किसानों से कहा कि जिन किसानों के अपने बैंक खाते से आधार, खसरा एवं मोबाइल नंबर लिंक नही हैं, वे अनिवार्य रूप से करा लेंवे। वहीं जिनके मोबाइल नंबर आधार से लिंक्ड नहीं हैं, ऐसे किसानों को पंजीयन के दौरान आधार लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा। इस ओटीपी नंबर को पंजीयनकर्ता को देने से संबंधित किसान की उपज का पंजीयन आसानी से हो जाएगा। जिन किसानों का मोबाइल नंबर आधार लिंक्ड नहीं हैं वह सेवा सहकारी समितियों पर स्थापित पंजीयन केंद्र पर उपलब्ध बायोमेट्रिक डिवाइस से आधार सत्यापित कराने के बाद पंजीयन करवा सकते हैं। साथ ही किसानों को अपनी उपज की बिक्री के पूर्व अपने बैंक खातों से आधार को लिंक कराना जरुरी है।उन्होंने कहा कि ऐसे किसान परिवार के अलग-अलग सदस्यों के आधार एक ही मोबाइल से लिंक्ड हैं, तो वे किसान भी अपने पंजीयन समितियों द्वारा संचालित उपार्जन केंद्रों पर बायोमेट्रिक सत्यापन कराने के बाद रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। पटेल ने बताया कि इस बार पंजीयन भुगतान प्रक्रिया को आधार सत्यापित अनिवार्य रूप से कर दिया गया है। इसलिए सभी किसान उपार्जन का पंजीयन कराने से पूर्व इस प्रक्रिया को अनिवार्य रूप से पूरा कर लें। उन्होंने कहा कि पंजीयन प्रक्रिया 5 मार्च तक चलेगी।
किसानों को राहत, उपार्जन पंजीयन के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान
किसानों को राहत, उपार्जन पंजीयन के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान
केंद्रों पर पंजीयन नहीं होने से किसान हो रहे थे परेशान
शासकीय गेहूं खरीदी के लिए जिले में किसानों की पंजीयन प्रक्रिया चल रही है। लेकिन किसानों के समस्त दस्तावेज होने के बावजूद ऑनलाइन केंद्रों पर उनके पंजीयन नहीं हो रहे हैं। रोजाना किसान केंद्रों पर रजिस्ट्रेशन कराने को लेकर परेशान हैं। वहीं जिला खाद्य विभाग द्वारा गेहूं उपार्जन के लिए किसानों का पंजीयन की अंतिम तिथि 5 मार्च रखी गई है। जिले में शासकीय एवं प्राइवेट सेंटरों पर पंजीयन प्रक्रिया समय पर नहीं होने से किसान परेशान हैं। जिले में बीते 10 दिनों में हरदा, टिमरनी, खिरकिया, सिराली, रहटगांव, हंडिया में मंगलवार तक 8 हजार 190 किसानों ने पंजीयन कराया। जिसमें गेहूं का 4999, चना का 486 हेक्टेयर का पंजीयन हो चुका है। किसानों ने कहा छह दिनों से लगा रहे हैं चक्कर : ग्राम केलनपुर के किसान बालकृष्ण राजपूत ने बताया कि वह समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए प्राइवेट सेंटर पर पंजीयन कराने के लिए बीते छह दिनों से चक्कर लगा रहे हैं। किसान ने बताया कि उन्होंने ऋण पुस्तिका, बैंक खाता नंबर, समग्र आईडी एवं मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कराया है। लेकिन इसके बाद भी कम्प्यूटर से पंजीयन कराने पर उनके मोबाइल पर ओटीपी नहीं आ रहा है, जिससे उनका पंजीयन अटका हुआ है। किसान रुपेंद्र गुर्जर टिमरनी, अशोक कुमार शर्मा रुंदलाय ने बताया कि शासकीय केंद्रों पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले किसानों की भीड़ लगी हुई है। वहां के कम्प्यूटर धीमी गति से चलने से एक-एक किसान को काफी समय तक बैठना पड़ रहा है। इसलिए वे प्राइवेट ऑनलाइन सेंटर पर पंजीयन कराने के लिए आए हैं। लेकिन प्राइवेट दुकानों पर भी सर्वर डाउन होने की समस्या के चलते उनके रजिस्ट्रेशन ओटीपी नहीं आने के कारण अटके हुए हैं। किसानों ने बताया कि छह दिन से पंजीयन कराने के लिए परेशान हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारपंजाब में दिल्ली का विकास मॉडल, CM भगवंत मान का ऐलान- 15 अगस्त को राज्य को मिलेंगे 75 नए मोहल्ला क्लीनिकराहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'पैंगोंग झील के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सरकार सिर्फ निगरानी ही कर रही है'दो साल बाद अपनों के बीच पहुंचते ही आजम खान ने बयां किया दर्द, बोले- मेरे साथ जो-जो हुआ वो भूल नहीं सकतापहली बार Yogi आदित्यनाथ की तारीफ में बोले अखिलेश यादव 'यूपी में Technology'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.