ब्यूटी पार्लर गई महिला भूल गई बैग, यह मिला बैग में

जैन धर्मशाला के सामने स्थित सपना ब्यूटी पार्लर में बैग भूल गई थी महिला, पुलिस ने कोई मामला दर्जनहीं किया

By: sandeep nayak

Published: 13 Mar 2018, 09:20 PM IST

हरदा. शहर के घंटाघर के आगे जैन धर्मशाला के सामने स्थित सपना ब्यूटी पार्लर में श्रृंगार कराने गई एक महिला का नकदी और ज्वैलरी रखा बैग गायब हो गया था।महिला ने इस आशय की थाने में शिकायत की थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालकर गुम हुई ज्वैलरी के बैग को खोज निकाला। मंगलवार को उन्होंने महिला और उसके पति को थाने बुलाकर बैग वापस लौटाया। टीआई पंकज त्यागी एवं जांच अधिकारी प्रधान आरक्षक संजय ठाकुर ने बताया कि देवास जिले के कांटाफोड़ निवासी रितु पति योगेश पाराशर (२९) सपना ब्यूटी पार्लर में श्रृंगार कराने के लिए गईथी। उसने अपना बैग वहीं पर रख दिया था। पार्लर का काम होने के बाद वह बैग को भूल गई थी। घर जाने के बाद ज्वैलरी पहनने के लिए बैग ढूंढा तो वह नहीं मिला। जिस पर रितु वापस पार्लर गई। किंतु पार्लर संचालक उषा भाटी ने बैग उसके यहां नहीं होने से इनकार किया। इसके बाद रितु अपने पति योगेश को लेकर थाने पहुंची और बैग पार्लर में छूटने का वाक्या बताया। प्रधान आरक्षक ठाकुर ने मौके पर जाकर मुआयना किया। उन्होंने पार्लर के सामने एक घर में लगे सीसीटीवी फुटेज को देखा तो रितु बैग लेकर पार्लर में जाती हुईदिखी। किंतु जब वह वापस लौटी तो बैग हाथ में नहीं था।

पार्लर संचालक की छत पर ही मिला बैग
ठाकुर ने बताया कि जब पार्लर संचालक उषा को सीसीटीवी के फुटेज दिखाकर बैग उसके यहीं होने की बात कही।किंतु इसके बाद भी वह ना-नुकूर कर रही थी। पुलिस के बढ़ते दबाव के बाद शाम को उषा ने रितु को फोन करके बताया कि उसका बेटा मानसिक रूप से विक्षिप्त है, उसने बैग उठाकर घर की छत पर पटक दिया था। जब वह छत पर गईतो बैग मिला। उषा ने कहा कि उसका बच्चा घर के सामान भी ऐसे ही इधर, उधर फेंक देता है। उषा के पति दयाराम भाटी ने थाने आकर बैग पुलिस को दिया। ठाकुर ने फरियादी रितु व उसके पति को थाने बुलाया। उन्हें बैग में नकदी ४ हजार, सोने की चूडिय़ा, कान के टॉप्स, चांदी की पायजेब और एंड्रायड फोन सही सलामत मिले। ठाकुर ने बताया कि फरियादी रितु द्वारा उषा के खिलाफ रिपोर्ट दर्जनहीं कराईगई। इसलिए उन्होंने रिंतु व उसके पति योगेश को गहने का बैग लौटा दिया। दंपत्ति ने पुलिस की सक्रिय कार्यप्रणाली की सराहना की।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned