अमावस्या पर दिनभर सूना रहा घाट, चोरी छिपे स्नान करने गए लोगों को पुलिस ने लौटाया

- पर्व स्नान के दौरान पहली बार ऐसा रहा जब घाट पर श्रद्धालुओं की भीड़ के बजाए सन्नाटा देखा गया

हंडिया। चैत्र मास की सर्वपितृमोक्ष अमावस्या पर होने वाले पुण्य स्नान पर कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव का असर रहा। प्रशासन की चेतावनी के चलते श्रद्धालु स्नान के लिए नहीं पहुंचे। जो लोग चोरी छिपे घाट पर जाने का प्रयास करते दिखे उन्हें पुलिस ने समझाईश देकर लौटाया। नहीं मानने वालों से पुलिस सख्ती से भी पेश आई। उल्लेखनीय है कि चैत्र नवरात्र शुरू होने के एक दिन पहले अमावस्या पर हर साल यहां बड़ी संख्या में लोग स्नान के लिए पहुंचते हैं। नौबत यह रहती थी कि इंदौर-बैतूल राष्ट्रीय राजमार्ग पर नर्मदा पुल से वाहनों की आवाजाही 24 घंटे बंद की जाती थी। लेकिन पहली बार ऐसा नहीं हो सका। कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए प्रशासन द्वारा घोषित लॉक डाउन के असर से यहां श्रद्धालु स्नान के लिए नहीं पहुंचे।
अधिकारियों ने भी नजर रखी
पर्व स्नान के लिए श्रद्धालु घाट पर नहीं पहुंचे इस संबंधी कार्रवाई पर प्रशासन की भी नजर रही। एसडीएम एचएस चौधरी, एसडीओपी हिमानी मिश्रा, थाना प्रभारी एसएस बघेल व नायब तहसीलदार भरत अहिरवार ने सभी घाटों का मुआयना कर यह देखा कि आदेश का पालन हो रहा है या नहीं। इस दौरान जो श्रद्धालु घाट के आसपास दिखे उन्हें समझाईश देकर लौटाया गया।

बृजेश चौकसे Editorial Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned