scriptWater sought from officials | कांग्रेसियों ने नपा में मटके फोड़े, अधिकारियों से मांगा पानी | Patrika News

कांग्रेसियों ने नपा में मटके फोड़े, अधिकारियों से मांगा पानी

वार्डों में समस्याओं के समाधान के लिए राजीव गांधी पंचायतीराज संगठन ने नपा का घेराव किया

हरदा

Published: May 24, 2022 01:08:19 am

हरदा. आज शहर के 35 वार्डों में नगर पालिका जलप्रदाय महज कुछमिनटों के लिए करवा रही है, जिसमें भी पानी गंदा और बदबूदार आ रहा है। पेयजल संकट को लेकर लोग बेहद परेशान हैं। इसके अलावा सडक़, बिजली, नाली जैसी मूलभूत सुविधाएं भी सालों बाद कॉलोनियों में नहीं हो पाई हैं। लोगों को गंदे पानी में से आना-जाना करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा था जो लोग जहां रह रहे हैं उन्हें वहां का पट्टा दे दिया जाएगा, लेकिन हकीकत में ऐसा नहीं हो रहा है। शहर के लोग कॉलोनियों में मूलभूत सुविधाओं के लिए परेशान हैं, लेकिन नपा उनके लिए कुछनहीं कर रही है। मगर कांग्रेस लोगों की आवाज को दबने नहीं देगी और उन्हें उनका हक दिलाने के लिए लड़ती रहेगी। यह बात राजीव गांधी पंचायतीराज संगठन के प्रदेशाध्यक्ष हेमंत टाले और जिलाध्यक्ष प्रमिलासिंह ठाकुर ने सोमवार को महिलाओं के साथ नपा का घेराव के दौरान कही। इस दौरान शहर के कई वार्डों की बड़ी संख्या में महिलाएं, पुरुष पेयजल उपलब्ध कराने की मांग करते हुए नपा के पास धरना दिया। वहीं नपा के गेट पर कांग्रेसियों ने मटकों को फोडकऱ प्रदर्शन किया। मामले को लेकर तहसीलदा धर्मेंद्र चौकसे ने कहा कि जो लोग सालों से जहां पर रह रहे हैं वे लोग पट्टे के लिए आवेदन करें, उसकी जांच कर पट्टे देने की कार्रवाई की जाएगी। शहर पानी की समस्या नपा सीएमओ के माध्यम से हल कराई जाएगी।
कांग्रेसियों ने नपा में मटके फोड़े, अधिकारियों से मांगा पानी
कांग्रेसियों ने नपा में मटके फोड़े, अधिकारियों से मांगा पानी

नपा के गेट पर चढकऱ आवाज बुलंद की
कांग्रेसियों को नपा में अंदर घुसने से रोकने के लिए पुलिसकर्मियों ने गेट बंद किए, लेकिन इसके बाद भी कार्यकर्ताओं ने गेट के ऊपर चढकऱ शहर की समस्याओं को लेकर आवाज बुलंद की। कुछसमय बाद कार्यकर्ताओं एवं महिलाओं को नपा में आने दिया।यहां पर तहसीलदार धर्मेंद्र चौकसे, सीएमओ ज्ञानेंद्र कुमार यादव को राजीव गांधी पंचायतीराज संगठन के प्रदेशाध्यक्ष टाले, पूर्वविधायक डॉ. आरके दोगने, कांगे्रस जिलाध्यक्ष ओम पटेल, केदार सिरोही, वरिष्ठ इंका नेता रामचरण शिंदे, मोहन बिश्नोई, अमर यादव, गोविंद व्यास, इकबाल अहमद, धर्मेंद्र चौहान, राकेश सूरमा, मुन्ना पटेल, संजय जैन, राघवेंद्र पारे, सुप्रिया पटेल, ज्योति तिवारी, अर्चना यादव, अजय राजपूत, योगेश चौहान, शिवनारायण बांके, संजय पांडे, शील उपाध्याय, मुजाहिद अली, शाहरुख एवं आदि कांगे्रस नेताओं ने शहर के नागरिकों को पर्याप्त पेयजल प्रदाय करने सहित आठ सूत्रीय समस्याओं का शीघ्र समाधान करने को लेकर ज्ञापन सौंपा।साथ ही उन्होंने कहा कि अगर शहर की इन मूलभूत समस्याओं का निराकरण निर्धारित समयावधि में नहीं होता है तो कांग्रेस को उग्र आंदोलन करेगी।

इन मांगों को नपा और प्रशासन के सामने रखा
1. शहर में लोगों को पर्याप्त और स्वच्छ पानी देने, एक दिन की अपेक्षा प्रतिदिन जलप्रदाय करें।नपा परिषद की इस लापरवाही की वजह से नगर की बाहरी इलाकों में रहने वाले नागरिकों को अत्यंत कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।
2. कांग्रेस शासित नपा के समय बिरजाखेड़ी जल संयंत्र के पास शहीद अमृता देवी विश्नोई के नाम पर बाटनीकल गार्डन बनाया जाना प्रस्तावित था।आज उस जगह पर सेप्टिटैंकों का आउटलेट डम्प किया जा रहा है, जिससे जल प्रदूषित होने की आशंका है, जिसे बंद किया जाए।
3. पूर्व कांग्रेस शासित नगर पालिका के कार्यकाल में निर्मित कचरा निपटान संयंत्र होने के बावजूद भी मुक्तिधाम के पास नपा कचरा फिकवा रही है।कचरे में आग लगाने से इसका विषैधा धुआं भूमिगत जलस्तर को प्रदूषित करने के साथ ही लोगों के स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है, जिसे रोका जाए।
4.अजनाल एवं टिमरन नदी के बाढ़ के प्रकोप से शहर का करीब 1 तिहाई हिस्सा प्रतिवर्ष प्रभावित होता है, इससे निजात दिलाने के लिए पूर्व परिषद ने योजना बनाकर कार्य करने का आश्वासन शहर के लोगों को दिया था, लेकिन इस दिशा में आज तक कोई प्रगति नहीं हुई है।
5. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने करीब 11 वर्ष पूर्व शहर के लोगों को आश्वस्त किया था कि हरदा सहित प्रदेश के सभी अवैध कॉलोनियों को वैध कर कॉलोनी में निवासरत् नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं दी जाएंगी। उनकी सार्वजनिक रूप से की गई यह घोषणा भी आज तक अधूरी है।
6 . मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी कि जो जहां काबिज है, उसे उस स्थान से बेदखल नहीं किया जाएगा, लेकिन आज दिनांक तक भी ऐसे निवासियों को शासन द्वारा पट्टे नहीं दिए गए हैं।
7. शहर में प्रधानमंत्री आवास की अनेक हितग्राहियों को दूसरी एवं तीसरी किस्त नहीं मिली है, जिससे उनके द्वारा निर्माणाधीन मकानों का कार्य अधूरा पड़ा है।यहीं नहीं भवन निर्माण सामग्री के मूल्यों में लगातार वृद्धि होने की वजह से भवन निर्माण किया जाना मुश्किल हो रहा है।
8 . हरदा शहर में बढ़ते ट्रैफिक को लेकर नगर पालिका एवं यातायात विभाग द्वारा कोई निश्चित योजना नहीं होने के कारण हर कहीं यातायात जाम हो जाता है एवं दुर्घटनाएं भी लगातार बढ़ती जा रही हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Kaali Poster Controversy: कानाडा के म्यूजियम ने हिंदू आस्था को ठेस पहुंचाने पर मांगी माफी, नहीं दिखाई जाएगी फिल्म2024 के आम चुनाव से पहले आधार कार्ड से लिंक होगी मतदाता सूची, फार्म- 6बी भरकर करना होगा जमाDomestic cylinder price: घरेलू गैस सिलेंडर महंगा, कमर्शियल सिलेंडर के दाम घटेMp local body elecation: इंदौर में तोडफ़ोड़, भाजपा नेता ने वायरल कर दी ईवीएम की फोटोMumbai News Live Updates: मुंबई में बारिश बनी आफत, कई जगहों पर लगा ट्रैफिक जाम, जलभराव के बाद चार सबवे बंदराजस्थान में 13 अगस्त से होगी 25 हजार अग्निवीरों की भर्ती, जानिए किस जिले में कब होगी भर्ती रैलीLalu Prasad Yadav की तबीयत में नहीं हो रहा सुधार, आज एयर एंबुलेंस से लाए जाएंगे दिल्लीएक के बाद एक दर्ज हो रहे मुकदमों पर छलका आजम का दर्द, बोले सारे मुकदमे हम पर ही होंगे क्या?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.