ये था यूपी का पहला जीरो बजट वाला आदर्श पशु आश्रय ग्रह, अब बजट से आस

Hariom Dwivedi

Publish: Feb, 15 2018 12:54:04 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India

हरदोई. यूपी के हरदोई में जीरो बजट पर निर्मित हुआ पहला पशु आश्रय गृह जिम्मेदारों को आईना दिखाने का काम कर रहा है। तत्कालीन डीएम शुभ्रा सक्सेना ने बहर ग्राम पंचायत में पशु आश्रय गृह का लोकार्पण किया था। जीरो बजट के रूप में एक मॉडल के तौर पर शुरू हुए इस पशु आश्रय ग्रह को छुट्टा जानवरों से किसानों को निजात दिलाने, सड़कों पर अचानक दौड़कर आ जाने वाले आवारा पशुओं के लिए और खासतौर से गोवंशों के लिए एक नई उम्मीद का आशियाना के तौर पर देखा गया था। अब लोगों को उम्मीद है कि योगी सरकार के आगामी बजट में ऐसे कई गौशालाओं को सौगात मिलेगी।

दरअसल उस समय यह माना गया था कि यह पशु आश्रय ग्रह एक मॉडल के रूप में संचालित किया जाए और उसमें शुरुआती दौर में 40 से 50 घुमंतू आवारा जानवरों को आश्रय दिया जाए और उनके खाने पीने के लिए चारागाह की भूमि पर उगने वाली घास बरसीम के साथ ही ग्राम पंचायत स्तर से भुसा आदि की व्यवस्था की जाए और फिर धीरे-धीरे इस व्यवस्था को व्यापक रूप पर लागू किया जाए।

डीएम का हुआ तबादला, सुस्त पड़ गया काम
सही मायने में देखा जाए तो यह मॉडल पशु आश्रय ग्रह अपने आप में एक अनूठा प्रयोग था जो कि सफलता के दृष्टिकोण से देखा जाना चाहिए लेकिन इसे दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि जो थीम और उद्देश्य था उसको लेकर डीएम शुभ्रा सक्सेना के तबादले के बाद से कहीं न कहीं प्रशासन से लेकर शासन तक इस ओर गंभीर रुख नहीं दिखाया जा रहा है।

उठने लगे ये सवाल
तत्कालीन डीएम शुभ्रा सक्सेना के तबादले के बाद यह मॉडल पशु आश्रय ग्रह सिर्फ एक ग्राम पंचायत तक सिमटता नजर आ रहा है। हालांकि तत्कालीन डीएम के कार्यकाल में तीन और ऐसे ही पशु आश्रय ग्रह प्लान हुए थे जो कि बन रहे हैं।

इस तरह हुआ था पहले माडल पशु आश्रय ग्रह का लोकार्पण
सदर तहसील क्षेत्र के मजरा बहर के गांव कटैया में बने इस पहले पशु आश्रय ग्रह का 4 दिसंबर को लोकार्पण करते हुए जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने कहा था कि छुट्टा जानवरों की वजह से कई बड़ी दुर्घटनायें हो जाती हैं और कई लोगो को दुर्घटना के दौरान अपनी जान भी गंवानी पड़ जाती है। किसानों की फसल को इन पशुओं की वजह से काफी नुकसान हो जाता है, इसे लेकर ये घुमंतू पशु किसानों के लिए चिंता का विषय बने रहते हैं।

1
Ad Block is Banned