रिजर्व भूमि पर कब्जा करने वाले और फर्जी बैनामा करने वाले अब जाएगें जेल, डीएम शुभ्रा सक्सेना का बड़ा एक्शन

Nitin Srivastava

Publish: Oct, 13 2017 12:10:19 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
रिजर्व भूमि पर कब्जा करने वाले और फर्जी बैनामा करने वाले अब जाएगें जेल, डीएम शुभ्रा सक्सेना का बड़ा एक्शन

डीएम शुभ्रा सक्सेना ने 1 अक्टूबर तक शतप्रतिशत कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।

हरदोई. डीएम शुभ्रा सक्सेना ने कहा कि ग्राम पंचायतों में रिजर्व की गई भूमि, चारागाह, तालाब, श्मशान घाट आदि की भूमि पर कब्जा कर अवैध रूप से बैनामा करने वाले जेल जाएंगे। ऐसे प्रकरणों में संबंधित अधिकारियों को आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं।

 

जल्द हों सभी मामले के निपटारे

जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने बताया कि राजस्व स्टाफ की मासिक बैठक में सभी उप जिलाधिकारियों एवं तहसीलदारों को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। एंटी भूमाफिया की समीक्षा एवं मुकदमों की समीक्षा में पाया गया कि जनपद के विभिन्न राजस्व न्यायालयों में 59 मुकदमें ऐसे संचालित हैं, जो कि रिजर्व भूमि से संबंधित हैं। जिलाधिकारी ने इन प्रकरणों पर संबंधित पीठासीन अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि ऐसे प्रकरणाों को तत्काल खारिज करते हुये संबंधितों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराना सुनिश्चित किया जाए। इसके अतिरिक्त उन्होंने सभी तहसीलों में अभियान चलाकर चारागाह, तालाब, श्मशानघाट आदि रिजर्व भूमि पर कब्जा करने वालों की सूची तैयार कर 10 दिन के अंदर संबंधितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराते हुये आख्या प्रस्तुत किये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने एंटी भूमाफिया की कार्रवाई नियमित रूप से करते रहने एवं कृत कार्रवाई से अवगत कराने के निर्देश सभी उप जिलाधिकारियों को दिये। जन शिकायतों के निस्तारण समीक्षा में प्रतिदिन प्राप्त होने वाली शिकायतों के अद्यतन स्थिति से अवगत रहने एवं निस्तारण की गति को बढ़ाने के निर्देश दिये।


बैठक में वृक्षारोपण, कृषि भूमि आवंटन, सीमा स्तम्भों की कोडिंग, संग्रह प्रभार, निर्विवाद उत्तराधिकार, शासकीय भूमि पर कार्रवाई, भूखण्ड पैमाइश संबंधी वादों की समयबद्ध निस्तारण, अहस्तान्तरणीय भूखण्डों गाटों के नामांत्रण, भूराजस्व अधिनियम की धारा के अन्तर्गत अभिलेखों का शुुद्धीकरण, खतौनियों मे अंश निर्धारण संबंधी कार्यों का भलीभांति परीक्षण परिसीमन करते हुए 1 अक्टूबर तक शतप्रतिशत कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।

 

आवारा पशुओं हेतु बनाया जाएगा फेंसिंग शेड

जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने बताया कि आवारा पशुओं आश्रय हेतु जनपद की सभी तहसील क्षेत्रों में फेंसिंग शेड बनाया जाएगा। जिसके अन्तर्गत सदर तहसील में 5 स्थानों का चिन्हांकन कर कार्य भी प्रारम्भ कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त अन्य तहसीलों में फेंसिंग शेड हेतु दो से पांच स्थलों का चिन्हांकन कर 10 दिन के अन्दर कार्य प्रारम्भ किये जाने के निर्देश संबंधित उप जिलाधिकारियों को दिये गये।

 

मिलावटी खाद्य पदार्थों पर छापेमारी की गयी

जिलाधिकारी के निर्देश पर तथा दीपावली के पर्व को दृष्टिगत मिलावटी खाद्य पदार्थों की दुकानों पर छापेमारी की गयी। छापेमारी में बेरिबाल सुपर डिस्ट्रीब्यूटर रेलवेगंज में डालडा की, आशीष गुप्ता निवासी जिप्सनगंज रेलवेगंज में सरसों के तेल की, शेखर पुत्र गजोधर बाबन रोड में, मेर्सस चन्द्रसेन सीताराम रेलवेगंज में रिफाइंड ऑयल की गठित टीम द्वारा जांच की गई तथा नमूना प्रयोगशाला भेजा गया। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी अम्बर दयाल पाण्डेय के नेतृत्वय में कार्रवाई की गई। जिसमें खाद्य सुरक्षा अधिकारी अनुराधा कुश्वाहा, विवेक कुमार, अरविंद, घनश्याम वर्मा, खुशीराम, रामकिशोर मौजूद रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned