अटल के करीबी इस पूर्व विधायक ने बढ़ाई बीजेपी की टेंशन, सरकार के खिलाफ करने जा रहे देशव्यापी आंदोलन

अटल के करीबी इस पूर्व विधायक ने बढ़ाई बीजेपी की टेंशन, सरकार के खिलाफ करने जा रहे देशव्यापी आंदोलन

Hariom Dwivedi | Publish: Sep, 03 2018 02:52:28 PM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 03:02:53 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

पूर्व भाजपा विधायक गंगा सिंह चौहान ने भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ खोला मोर्चा, बीजेपी में हड़कंप, देखें वीडियो...

नवनीत द्विवेदी

हरदोई. आगामी लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा बीजेपी सत्ता और संगठन को चुस्त-दुरुस्त करने में जुटी है। इसके लिये बीजेपी सामाजिक व जातीय समीकरणों को साध रही है। लेकिन कई मुद्दों पर बीजेपी के ही नेता-कार्यकर्ता ही पार्टी आलाकमान से फैसलों पर नाराजगी जता रहे हैं। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में जिले के दिग्गज भाजपा नेता व पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए देशव्यापी आंदोलन का ऐलान किया है। गंगा सिंह चौहान को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी का बेहद करीबी नेता माना जाता है।

भाजपा के पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान ने एससी-एसटी एक्ट और आरक्षण-व्यवस्था को लेकर भाजपा पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार द्वारा अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को दरकिरार कर पूर्व से अधिक सशक्त कानून बनाने का कड़ा विरोध किया है। कहा कि ये भाजपा सरकार का ये फैसला गलत और पूरी तरह से सवर्ण विरोधी है। अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चो खोलते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि रिजर्वेशन का लाभ हर वर्ग के गरीबों को मिलना चाहिये।

देशव्यापी आंदोलन करेंगे
आर्थिक आधार पर आरक्षण दिये जाने की मांग करते हुए पूर्व बीजेपी विधायक ने सवर्ण आयोग गठन करने की मांग करते हुए आर-पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान किया। कहा कि समाज के हर वर्ग को न्याय और हक के लिये वह कोई भी परिणाम भोगने के तैयार हैं। उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट और आरक्षण के खिलाफ जनमत जुटाकर वह जिले से लेकर देशव्यापी आंदोलन करेंगे।

अटल के 'आशीर्वाद' से चुनाव जीते थे गंगा सिंह चौहान
बिलग्राम हरदोई के निवासी पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान जनसंघ काल से भाजपा से जुड़े हैं। वह स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के बेहद करीबी कहे जाते रहे हैं। अटल बिहारी वाजपेयी के आशीर्वाद से ही 1996 में विधानसभा चुनाव जीते थे। चुनाव के दौरान उन्हें लगा कि जातीय समीकरण में वोटों का आंकड़ा उनसे दूर हो रहा है तो उन्होंने अटल जी तक अपनी बात पहुंचाई, जिसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी ने हरदोई आकर उनके पक्ष में चुनावी जनसभाएं कीं। नतीजन गंगा सिंह चौहान के पक्ष में माहौल बना और वह विधायक चुने गये।

कौन हैं गंगा सिंह चौहान
बिलग्राम हरदोई के निवासी पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान जनसंघ काल से भाजपा से जुड़े हैं। 1996 में वह बीजेपी विधायक चुने गये। अगला चुनाव वह हार गये। इसके बाद से उन्हें पार्टी का टिकट नहीं मिला, लेकिन वह राजनीति में सक्रिय बने रहे। विधानसभा चुनाव हो या लोकसभा चुनाव वह समर्थकों संग बीजेपी प्रत्याशी के फेवर में ही रहे। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले गंगा सिंह चौहान के ऐलान से भाजपाइयों में हड़कंप मच गया है।


वीडियो में देखें क्या बोले- पूर्व बीजेपी विधायक गंगा सिंह चौहान...

Ad Block is Banned