बढ़ सकती है मिल प्रबंधन की मुश्किलें, निर्माणधीन बिल्डिंग की छत ढहने से घायल हुए थे 11 मजदूर

बढ़ सकती है मिल प्रबंधन की मुश्किलें, निर्माणधीन बिल्डिंग की छत ढहने से घायल हुए थे 11 मजदूर

Ruchi Sharma | Publish: Sep, 12 2018 11:09:30 AM (IST) | Updated: Sep, 12 2018 02:14:24 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बढ़ सकती है मिल प्रबधंन की मुश्किलें, निर्माणधीन बिल्डिंग की छत ढहने से घायल हुए थे 11 मजदूर

 

हरदोई. जिले में दो दिन पहले डीएससीएल शुगर मिल के एक निर्माणाधीन भवन में रात के अंधेरे में ढही छत से घायल हुए 11 मजदूरों का मामला मिल प्रबंधन के लिए मुसीबत का सबब बन सकता है। मिल प्रबंधन कर खिलाफ बड़ी कार्रवाई हो सकती है इसका अंदेशा होते ही मिल प्रबन्धन अपने बचाव में हर स्तर पर जुट गया है।

दरअसल प्रथम दृष्टया पूरे मामले में मिल प्रबंधन की लापरवाही सामने आई थी ।जिसको लेकर DM पुलकित खरे ने जांच के निर्देश दिए थे । DM पुलकित खरे ने जिला गन्ना अधिकारी को पूरे मामले की जांच कर हर बिंदुओं पर पड़ताल कर अपनी जांच रिपोर्ट देने को कहा था ।

DM ने बताया कि चीनी मिल में हुए इस हादसे को लेकर इस बात की भी जांच करा रहे हैं कि रात के समय में निर्माण कार्य जो चल रहा था और इसको लेकर के क्या निर्माण करने वाली कॉन्ट्रैक्टर ने मानकों का पालन करते समुचित और आवश्यक व्यवस्थाएं की थी या नहीं की थी और मिल प्रबंधन के स्तर से क्या-क्या मानिटरिंग व्यवस्था की जा रही थी ।

 

DM ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामले में लापरवाही नजर आई है । इसको लेकर चीनी मिल प्रबंधन के साथ ही निर्माण करने वाले कॉन्ट्रैक्टर के विषय में हर बिंदु पर जांच करने के निर्देश उन्होंने जिला गन्ना अधिकारी को दिए हैं । जांच रिपोर्ट मिलते ही इस और नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी ।

 

DM पुलकित खरे के कड़े तेवर को देखते हुए डीएससीएल शुगर मिल की मुश्किलें बढ़ सकती हैं क्योंकि इस मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने भी धरना देकर DM को ज्ञापन मिल प्रबन्धन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की । उधर DM पुलकित खरे के कड़े तेवर को देखते हुए जिला गन्ना अधिकारी मामले की जांच पड़ताल कर रहे हैं । DM ने कहा कि जो भी जिस स्तर पर लापरवाही पाई जायेगी उससे संबंधित लोगो के खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई होगी ।

Ad Block is Banned