मधुमक्खियों के छत्ते बने अस्पताल के लिए आफत, नहीं हो रही कोई कार्यवाही

सरकारी अस्पताल में बनी पानी की टंकी पर लगे दर्जनों मधुमक्खियों के छत्ते अब लोगों के लिए खतरे का सबब बने हुए हैं.

By: Abhishek Gupta

Published: 24 Jun 2018, 07:11 PM IST

Lucknow, Uttar Pradesh, India

हरदोई. जनपद के मुख्यालय पर मौजूद सरकारी अस्पताल में बनी पानी की टंकी पर लगे दर्जनों मधुमक्खियों के छत्ते अब लोगों के लिए खतरे का सबब बने हुए हैं। इस टंकी के पास जिला अस्पताल तो है ही साथी ही एसपी कार्यालय भी इसी टंकी के पीछे बना हुआ है। जहाँ रोजाना सैकड़ों लोगों का आवागमन बना रहता है, तो वहीं अस्पताल में भी रोज़ हज़ारों मरीज़ आते जाते हैं। विगत कई वर्षों से लगे इन छत्तों पर रहने वाली मधुमक्खियों को अगर थोड़ा सा भी छेड़ा जाए, तो ये लाखों की संख्या में उड़ कर लोगों के ऊपर खतरा बनकर मंडराने लगती हैं। ऐसे में प्रशासन इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी साधे हुए हैं।

हरदोई जिले का सरकारी अस्पताल वैसे तो तमाम अव्यवस्थाओं की मार झेल अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। दूषित जलापूर्ति से अस्पताल के हज़ारों मरीज़ों की जान पर भी बन आयी है। विगत कई वर्षों से अस्पताल परिसर में बनी पानी की टंकी पर मधुमक्खियों का राज है। जैसा की तस्वीरें साफ़ बयान कर रही हैं कि दर्जनों छत्तों का टंकी पर बना होना स्वास्थ्य महकमें की उदासीनता का सबूत है। ये छत्ते सिर्फ लोगों के लिए ही खतरे का सबब नहीं हैं बल्कि इनके यहाँ पर होने से पानी की टंकी को सालों से साफ़ भी नहीं किया जा सका है। टंकी की मरम्मत होना तो दूर इसकी सफाई भी कई वर्षों से नहीं कराई गयी है, क्यूंकि स्वाभाविक सी बात है की कोई भी कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालना क्यों चाहेगा। ऐसे में दूषित जल आपूर्ति अस्पताल में बरक़रार है, ऐसे में मरीज़ों में संक्रमित रोगों के फैलने का खतरा मंडरा रहा है।

उस पर जब सीएमएस से बात की गयी तो पहले तो उन्होंने नगर निगम को लिखित सूचना दिए जाने की बात से अवगत कराया, मगर फिर उनके बयान देने से साफ़ जाहिर हो रहा है की उन्हें इस गंभीर समस्या से कोई मतलब नहीं है और उन्होंने इस बात का सारा जिम्मा नगर निगम को बताया। मगर शायद वे ये भूल रहे हैं की नगर निगम को सूचित कर जल्द से जल्द इस समस्या का निदान कराना उनकी ही जिम्मेदारी है। ऐसे में अस्पताल में आने जाने वाले तीमारदार व् मरीज़ घबराए हुए रहते हैं, कि पता नहीं कब उनके ऊपर ये मधुमक्खियां हावी हो जाएँ। वहीँ मुख्य चिकित्सा अधीक्षक मामले का संज्ञान तक नहीं ले रहे हैं, महज खाना पूर्ती करते नज़र आरहे हैं।

हरदोई शहर के बींचों बीच स्थिति यहाँ का जिला अस्पताल मुख्यालय से कुछ ही दूरी पर स्थित है। समस्या सिर्फ अस्पताल तक ही सिमित नहीं है बल्कि इस टंकी के पीछे बना पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भी मधुमक्खियों के आतंक से लोग आहत है। ताज़ा मामला आज का ही है जब एक पीड़ित अपनी समस्याएं लेकर एसपी ऑफिस पहुंचा तो एसपी से तो नहीं मिल सका मगर उसकी मुलाकात इन मधुमक्खियों से जरूर हो गयी, और किस कदर इस पीड़ित पर ये मधुमक्खियां हावी हुई है, ये आप तस्वीरें देख अंदाज़ा लगा सकते है। पीड़ित से जब बात की गयी तो उसने अपना दर्द बयान किया। वहीँ एक समाज सेवी ने इस समस्या के बारे में बताते हुए मामले को गंभीर बताया और कहा की इस तरफ प्रशासन को ध्यान देने की खास जरूरत है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned