बड़ी खबर: वोट के बदले नोट बांट रहे थे प्रत्याशी के पति, पुलिस ने पकड़ा, केस दर्ज

बड़ी खबर: वोट के बदले नोट बांट रहे थे प्रत्याशी के पति, पुलिस ने पकड़ा, केस दर्ज
Independence candidate

Shatrudhan Gupta | Updated: 21 Nov 2017, 05:09:23 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रत्याशी धन, बल के इस्तेमाल से भी पीछे नहीं हैं। ताजा मामला हरदोई में सामने आया है।

हरदोई. उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव के पहले चरण का मतदान बुधवार होगा। इसके लिए निर्वाचन आयोग ने पूरी तैयारियां कर ली हैं। वहीं, राजनीतिक दलों के अधिकृत प्रत्याशी और निर्दल प्रत्याशी भी अपनी-अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं। प्रत्याशी धन, बल के इस्तेमाल से भी पीछे नहीं हैं। ताजा मामला हरदोई में सामने आया है। बताया जाता है कि यहां एक निर्दल नगर पालिका के प्रत्याशी के पति ने वोटरों को लुभाने व अपने प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने के लिए नोट बांटे। बताया जाता है कि प्रत्याशी के पति को पुलिस ने मतदाताओं को नोट बांटते रंगे हाथ पकड़ा है। वहीं, वोट के बदले नोट बांटने की खबर पूरे जिले में आग की तरह फैल गई। इस खबर के बाद पूरे जिले में हड़कंप मचा हुआ। पुलिस अब कार्रवाई की बात कर रही है।

वोटरों को पैसे बांटते हुए रंगे हाथ पकड़ा

बताया जाता है कि सांडी नगर पालिका से रीतू गुप्ता बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। उनके पति रामजी गुप्ता को पुलिस ने वोट के लिए पैसा बांटते रंगे हाथ पकड़का है। बताया जाता है कि सांडी नगर पालिका से निर्दल प्रत्याशी रीतू गुप्ता के पति रामजी गुप्ता रीतू गुप्ता के पक्ष में मतदान करने के लिए क्षेत्र के मतदाताओं को लुभा रहे थे। वे वोटरों को पैसे देकर रीतू के पक्ष में वोट करने की बात कर रहे थे। इसकी शिकायत किसी ने स्थानीय पुलिस को कर दी। इस सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने रामजी गुप्ता को वोटरों को पैसे बांटते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया। पुलिस को उनके पास से 100, 500 के कई नोट मिले हैं। बताया जाता है कि जब रामजी गुप्ता मतदाताओं को नोट दे रहे थे, तभी पुलिस पहुंच गई और उन्हें पकड़ लिया।

आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज

पुलिस के मुताबिक रामजी गुप्ता के पास से 13,800 रुपए मिले हैं। पुलिस ने आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कर शांति भंग करने की आशंका में चालान किया है। बताया जाता है कि निर्दल प्रत्याशी रीतू गुप्ता के पति रामजी गुप्ता शराब कारोबारी हैं और कुछ दिन पूर्व अवैध शराब के मामले में पुलिस ने उन पर मामला दर्ज किया था, जिसके बाद उनकी दुकानें निरस्त कर उन्हें ब्लैक लिस्टेड भी कर दिया गया था। वहीं, शाहाबाद में पुलिस ने रविवार की रात कुछ लोगों को शराब बांटते हुए पकड़ा था। प्रचार कर रहे लोग तो मौके से भाग निकले, लेकिन पुलिस ने गाड़ी को कब्जे में ले लिया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned