केशव मौर्य का अखिलेश यादव पर बड़ा बयान-कहा-वह डिप्रेशन में हैं, कुछ दिन आराम करें

कहा- पिछली सरकार पत्थर दिल थी और शिलान्यास ही करती थी, लेकिन हमारी सरकार विकास पर भरोसा करती है और विकास ही कर रही है।

By:

Published: 11 Sep 2017, 03:42 PM IST

हरदोई. एक ओर जहां यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सूबे में भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग छेड़ रखी है तो वहीं मंत्रीमंडल में उनके सहयोगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भ्रष्टाचार के पूरी तरह से खत्म होने के पक्ष में नहीं हंै। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को आराम करने की सलाह दी है।

यहांं एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर हमला बोलने के क्रम में ठेकेदारों को भी काम में दाल में नमक के बराबर भ्रष्टाचार करने की छूट दे दी है। डिप्टी सीएम ने अखिलेश यादव को आराम करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि वह डिप्रेशन में हैं और कुछ दिन घर में बैठकर आराम करें। उन्होंने अखिलेश यादव को डिप्रेशन में बताया। कहा कि पिछली सरकार पत्थर दिल थी और शिलान्यास ही करती थी, लेकिन हमारी सरकार विकास पर भरोसा करती है और विकास ही कर रही है।

सड़क निर्माण के नाम पर केवल कागजों में काम हुए

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि ठेकेदार दाल में नमक बराबर ही खाएं। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग की उन्हें जिम्मेदारी सौंपी गई। विभाग संभालते ही पूर्ववर्ती सरकार के जो कारनामे पता चले वह चौंकाने वाले थे। कहा कि सड़क निर्माण के नाम पर कागजों में काम हुआ और भुगतान भी हो गया, लेकिन जमीन पर सड़क का कहीं पता ही नहीं था। उन्होंने कहा कि अब सड़क निर्माण के नाम पर भ्रष्टाचार नहीं होने दिया जाएगा। ठेकेदार सरकारी राशि लूट नहीं पाएंगे। व्यवसाय की तरह ठेकेदारी करें और दाल में नमक बराबर खाएं तो ठीक है। बड़ा घोटाला तथा गड़बड़ी की तो बर्दाश्त नहीं होगी।

मौर्य ने रविवार को भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी-बड़ी बातें कीं, लेकिन साथ में यह भी कह गए कि खाओ लेकिन उस तरह जैसे दाल में नमक खाया जाता है। जहां एक ओर उन्होंने राज्य सरकार की ओर से भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त रुख अपनाने का दावा किया तो वहीं दूसरी ओर दाल में नमक की तरह खाने की बात कहकर उन्होंने छोटे स्तर पर भ्रष्टाचार की ही पैरवी कर दी।

उन्होंने कहा कि हम भ्रष्टाचार से मुक्त शासन चाहते हैं। कमाओ लेकिन दाल में जैसे नमक खाया जाता है वैसे खाओ, दाल में नमक की तरह खाओ। कहा कि कमाई करना, व्यापार करना गलत नहीं है लेकिन अगर आप सोचेंगे जनता का जो हिस्सा है, उसे लूटेंगे तो भाजपा की सरकार में लूटने वाले को माफ नहीं किया जाता है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned