यूपी की इस सीट पर सही साबित हुआ बीजेपी का नये प्रत्याशी को चुनाव मैदान में उतारने का दांव

यूपी की इस सीट पर सही साबित हुआ बीजेपी का नये प्रत्याशी को चुनाव मैदान में उतारने का दांव

Hariom Dwivedi | Publish: May, 23 2019 07:53:39 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- मिश्रिख लोकसभा सीट का हाल
- भारतीय जनता पार्टी और सपा-बसपा गठबंधन में थी कांटे की टक्कर
- भाजपा प्रत्याशी गठबंधन प्रत्याशी डॉ. नीलू सत्यार्थी को हराया

सीतापुर. मिश्रिख लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी अशोक रावत ने गठबंधन प्रत्याशी डॉ. नीलू सत्यार्थी को हरा दिया है। भारतीय जनता पार्टी ने मौजूदा सांसद अंजू बाला का टिकट काटकर अशोक रावत को टिकट दिया था। इससे पहले भाजपा प्रत्याशी अशोक रावत मिश्रिख लोकसभा सीट से दो बार सांसदी का चुनाव जीत चुके हैं।

1962 से आस्तित्व में आई मिश्रिख लोकसभा सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। यहां सात बार कांग्रेस, तीन बार बसपा, दो बार भाजपा और एक-एक बार सपा, जनसंघ और भारतीय लोकदल ने जीत दर्ज की है। इस सीट पर सबसे ज्यादा चार कांग्रेस के टिकट पर रामलाल राही विजयी हुए हैं। इस बार उनकी पुत्रवधू कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। इसके अलावा भाजपा प्रत्याशी अशोक रावत भी मिश्रिख लोकसभा सीट से दो बार चुनाव जीत चुके हैं।

प्रत्याशी
कांग्रेस- मंजरी राही
बसपा- नीलू सत्यार्थी
भाजपा- अशोक रावत

2014 लोकसभा चुनाव
भाजपा सांसद अंजू बाला जीती थीं
दूसरे नंबर पर बसपा के अशोक रावत रहे
तीसरे नंबर पर सपा प्रत्याशी जय प्रकाश रावत रहे
चौथे नंबर पर कांग्रेस प्रत्याशी ओम प्रकाश रहे

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned