हाथरस में बाइकर्स गैंग का खौफ, बाइक सवार युवक की गोली मार कर हत्या

हाथरस में बाइकर्स गैंग का खौफ, बाइक सवार युवक की गोली मार कर हत्या

Amit Sharma | Publish: Sep, 04 2018 06:24:23 PM (IST) Hathras, Uttar Pradesh, India

हत्या करके बदमाश युवक से तीन हजार रुपए और मोबाइल लूट कर फरार हो गए।

हाथरस। आगरा अलीगढ़ बाईपास पर हतीसा पुल के पास बदमाशों ने बाइक सवार युवक को गोली मार दी। युवक की आगरा के एक निजी अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। बदमाश युवक से तीन हजार रुपए और मोबाइल लूट कर फरार हो गए।

आगरा निवासी था म्रतक

सतीश उर्फ गुड्डू निवासी बोदला थाना लोहामंडी आगरा अपने किसी काम से अलीगढ़ बाइक से जा रहा था। वह किसी फाइनेंस कंपनी में काम करता था। जैसे ही सतीश हतीसा पुल के पास आया तो एक अपाचे बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने उसे रोक लिया और पेट में गोली मार दी। उसकी जेब से तीन हजार रुपए और मोबाइल लूट कर ले गये। गोली लगने के बाद युवक काफी देर तक सड़क किनारे तड़पता रहा। इस दौरान वहां से गुजर रहे भाजपा नेता जितेन्द्र वार्ष्णेय की नजर पड़ी। उन्होंने तुरन्त चंदपा इंस्पेक्टर विनोद यादव को फोन किया। बाद में इंस्पेक्टर हाथरस गेट को सूचना दी तो दोनों ही थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। वारदात की सूचना मिलने पर एसपी जयप्रकाश, एएसपी सिद्धार्थ वर्मा और कोतवाली इंस्पेक्टर जेएस पंवार भी आ गये। पुलिस घायल को गाड़ी में डालकर जिला अस्पताल लेकर आई। पेट से अधिक खून बहने के कारण डॉक्टरों ने उसे आगरा के लिए रेफर कर दिया। घायल युवक को आगरा के एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पहले भी हो चुकी हैं वारदात

यह लूट का पहला मामला नहीं है। इसी थाना चंदपा क्षेत्र में बाईपास पर कुछ दिनों पहले एक फाइनेंस कम्पनी के कर्मचारी को इसी तरह गोलीमार कर लूट की गई थी। इस घटना के अपराधियों को भी पुलिस नहीं पकड़ सकी। बाद में फिरोजाबाद जिले की टूंडला पुलिस ने उन अपराधियों को पकड़ा था और आज फिर यह घटना हो गयी। यह सीधे सीधे पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान लगाती है।

बाइकर्स गैंग पुलिस के लिए बना सिरदर्द

हाथरस जिले में बाइकर्स गैंग द्वारा कई वारदातों को अंजाम दिया जा चुका है। शहर में पिछले दिनों लगातार कई महिलाओं से चेन स्नेचिंग की वारदात हो चुकी है और अब यह लूट की घटना भी हो चुकी है। इन सब के पीछे बाइकर्स गैंग निकल कर आ रहा है। जिन महिलाओं से चेन स्नेचिंग की घटना हुई थी वह भी बाइक पर ही सवार बदमाश थे। मगर कई महीनों में पुलिस न तो चेन स्नेचिंग की घटनाओं का पर्दाफाश कर पाई और न ही इन लूट की घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों पकड़ सकी है, यह बाइकर्स गैंग पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है।

Ad Block is Banned