भाजपा जिलाध्यक्ष के खिलाफ मंडल अध्यक्षों ने खोला मोर्चा, लगाए आरोप

Mukesh Kumar

Publish: Jan, 14 2018 07:43:31 PM (IST)

Hathras, Uttar Pradesh, India
भाजपा जिलाध्यक्ष के खिलाफ मंडल अध्यक्षों ने खोला मोर्चा, लगाए आरोप

हाथरस जिले में भाजपा संगठन में रार खत्म का नाम नहीं ले रही है।

हाथरस। जिले में भाजपा संगठन में रार खत्म का नाम नहीं ले रही है। यहां आए दिन किसी न किसी मुद्दे को लेकर पार्टी पदाधिकारियों में बखेड़ा खड़ा हो जाता है। फिलहाल यहां के छह मंडलों के अध्यक्षों ने भाजपा जिलाध्यक्ष रामवीर सिंह परमार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मंडल अध्यक्षों ने शनिवार को संगठन द्वारा बुलाई गई आईटी कार्यालय में बैठक का बहिष्कार कर दिया और जिलाध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगाए।


भाजपा जिलाध्यक्ष पर लगाए आरोप
मंडल अध्यक्षों का कहना है कि भाजपा जिलाध्यक्ष की कार्य प्रणाली से कार्यकर्ताओं में रोष है। जिले में कोई भी बैठक होती है तो उसका एजेंडा वो स्वयं ही तय कर लेते हैं। जिलाध्यक्ष द्वारा मंडल अध्यक्ष होते हुए भी मंडलों में समानांतर संगठन चलवाया जा रहा है। मंडल अध्यक्षों का आरोप है कि संविधान के अनुसार मंडल के रहने वाले जिले के पदाधिकारी को उसी मंडल का प्रभारी नहीं बनाया जा सकता है, लेकिन जिलाध्यक्ष ने अपनी हठधर्मिता के चलते जिले के कोषाध्यक्ष संजय सकसेना को हाथरस मंडल का प्रभारी बनाया दिया है। इस बहिष्कार में हाथरस मंडल अध्यक्ष मूलचन्द्र वार्ष्णेय, विसाबर अध्यक्ष तुलसीदास अग्रवाल, सासनी नगर राजकुमार शर्मा, हाथरस देहात प्रमोद मदनावत, हसायन शिशुपाल सिंह, ऐहन मंडल धर्मेश सेंगर आदि मौजूद थे।

ये भी पढ़ें- सीएम योगी से इस पुल का उद्घाटन चाहते हैं भाजपाई, सपाइयों ने नारियल फोड़ लिखा अखिलेश

'आरोप लगाने वाले सपा-बसपा के कार्यकर्ता'
इस विवाद में भाजपा जिलाध्यक्ष रामवीर सिंह परमार ने बताया कि आरोप लगने वाले लोग सपा-बसपा के लिए काम करते हैं। जो बैठक करते हैं, सबको जानकारी दी जाती है। सभी बैठकों में छोटे से छोटे कार्यकर्ता को सम्मान दिया जाता है। ये लोग समय-समय पर मुझे बदनाम करने के लिए इस तरह की हरकतें करते रहते हैं। वो हाईकमान के निर्देश के अनुसार ही काम करते हैं और आगे भी करते रहेंगे।

Ad Block is Banned