विकास भवन के डीपीआरओ कार्यालय में पहले आग लगी, अब चोरी, हर तरफ हो रही चर्चा, देखें वीडियो

स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े कंप्यूटर चोरी, पहले इसी कार्यालय कक्ष में लगी थी आग, कार्रवाई से बचने के लिए करतूत तो नहीं?

हाथरस। बेखौफ चोरों ने विकास भवन (Vikas bhawan) में स्थित जिला पंचायत राज अधिकारी (डीपीआरओ) कार्यालय को निशाना बनाया। चोरों ने कार्यालय के ताले तोड़कर कार्यालय में रखा एक डेस्कटॉप, दो सीपीयू, एक लैपटॉप, एक प्रिंटिंग मशीन को चुरा लिया। डीपीआरओ कार्यालय (DPRO office) में हुई चोरी (Chori) की सूचना पाकर फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पुलिस अधिकारी पहुंचे। मामले की जाँच की।

यह भी पढ़ें: भ्रष्टाचार के खिलाफ CM योगी की कार्रवाई से खलबली, 13 अफसर निलंबित

हाथरस जिले के थाना कोतवाली मुरसान क्षेत्र के मथुरा रोड स्थित विकास भवन है। चोरों द्वारा ताला तोड़कर की गई चोरी के बाद पंचायत राज विभाग का कार्यालय इस समय सुर्खियों में हैं। पिछले दिनों इस कार्यालय में संदिग्ध अवस्था में आग लगी थी और अब चोरी हो गई। आग लगने और चोरी होने के मामले में दिलचस्प पहलू यह है कि दोनों बार स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े दस्तावेजों को ही निशाना बनाया गया है। कहीं ऐसा तो नहीं है कि कार्रवाई से बचने के लिए विभाग के ही कुछ कर्मचारी इस तरह की करतूतों को अंजाम दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: भरतपुर से एटीएम लूटकर भाग रहे जगराम गैंग की पुलिस से मुठभेड़

पंचायत राज विभाग के एक कक्ष में पिछले माह संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई थी। इस आग में कई महत्वपूर्ण पत्रावलियां जलकर खाक हो गई। वहीं एक कम्प्यूटर में भी आग लग गई थी। इस कम्प्यूटर के डाटा को सुरक्षित मंगाने के लिए विभागाध्यक्ष ने हार्डडिस्क को आगरा लैब भेजा था, लेकिन आग की वजह कुछ भी नहीं मिल सका। हैरानी की बात यह है कि जिस कक्ष में आग लगी थी, चोरों ने इस बार उसी रूम को निशाना नाया। स्वच्छ भारत मिशन का महत्वपूर्ण डाटा फीड दो डेस्कटाप, दो सीपीयू, एक लैपटॉप व एक प्रिटंर मशीन को चुरा लिया। इस बारे में जिला पंचायत राज अधिकारी बनवारी सिंह ने कहा कि चोरी की रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। जिन अफसरों को निलंबित किया गया है उनमें बदायूं कोषागार में कार्यरत 3 वरिष्ठ कोषाधिकारी और तहसीलदार स्तर के 10 अधिकारी शामिल हैं।

Show More
suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned