लोकसभा चुनाव 2019 से पहले भाजपा में गुटबाजी हुई शुरू, इस घोषणा के बाद बढ़ गया विवाद

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले भारतीय जनता पार्टी में गुटबाजी शुरू हो गई है।

By: धीरेंद्र यादव

Published: 06 Oct 2018, 05:19 PM IST

हाथरस। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले भारतीय जनता पार्टी में गुटबाजी शुरू हो गई है। ये गुटबाजी उस समय सामने आई, जब भाजपा युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष की घोषणा हुई। इस घोषणा के बाद शुरू हुए विवाद ने अब बढ़ता जा रहा है।

ये है मामला
भाजपा नगर अध्यक्ष मूलचन्द्र वार्ष्णेय ने भाजपा नगर मीडिया प्रभारी यतेंद्र वार्ष्णेय गोरू को युवा मोर्चा के हाथरस नगराध्यक्ष पद पर मनोनीत किया है, जिसको युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष चौधरी चंद्रवीर सिंह ने असंवेधानिक व गलत बताया है। युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष यतेंद्र ने बताया कि उन्हें भाजपा नगर अध्यक्ष मूलचंद वार्ष्णेय ने युवा मोर्चा का नगर अध्यक्ष मनोनीत किया है। वहीं इस बारे में नगर अध्यक्ष मूलचंद वार्ष्णेय से बात की गई, तो उनका कहना है कि 2019 लोकसभा चुनाव को जिताने के लिए बूथ स्तर पर जानकारी रखने वाले कार्यकर्ताओं की आवश्यकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए, उन्होंने यतेंद्र पूर्व नगर मीडिया प्रभारी को युवा मोर्चा का नगर अध्यक्ष घोषित किया है। क्योंकि जब पूर्व में चंद्रवीर सिंह युवा मोर्चा में महामंत्री थे। तब यतेंद्र उनके साथ उपाध्यक्ष रहे हैं। युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष और भाजपा के नगर अध्यक्ष दोनों को यह अधिकार है कि वे युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष की घोषणा कर सकते हैं।

ये है नियम
भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष चौधरी चंद्रवीर सिंह का कहना है कि युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष द्वारा मंडल अध्यक्ष और नगर अध्यक्ष से 3 या 5 नामों के पैनल मांगे जाते हैं। उसके बाद युवा मोर्चा का जिलाध्यक्ष ही युवा मोर्चा की कमेटी का गठन करता है। अभी मेरे द्वारा कोई कमेटी नहीं बनाई गई है। पहले जिला कमेटी का विस्तार किया जाएगा और उसके बाद मंडल अध्यक्ष और नगर अध्यक्ष की घोषणा की जाएगी। भाजपा नगर अध्यक्ष मूलचंद वार्ष्णेय को कोई अधिकार नहीं है कि वे युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष की घोषणा कर सकते हैं। उन्होंने असंवैधानिक तरीके से युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष की घोषणा की है जो बिल्कुल गलत है।

 

BJP
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned