बढ़ती जनसंख्या रोकने के लिए परिवार नियोजन की बात आई तो मौलवी ने क्या कहा, देखें वीडियो

suchita mishra | Updated: 04 Jul 2019, 12:45:21 PM (IST) Hathras, Hathras, Uttar Pradesh, India

विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा शुरू, धर्मगुरुओं भी कहा- जनसंख्या वृद्धि रुकनी चाहिए।

हाथरस। विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा (11 जुलाई से 31 जुलाई 2019) के अंतर्गत मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में धर्मगुरु सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें सभी धर्मों के धर्मगुरुओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। इसमें सभी धर्मगुरुओँ ने कहा कि बढ़ती जनसंख्या रोकेंगे। पोलियो अभियान की तरह परिवार नियोजन के लिए भी अभियान चलना चाहिए।

जनसंख्या वृद्धि से बेरोजगारी एवं भ्रष्टाचार बढ़ रहा
शुभारम्भ मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. ब्रजेश राठौर ने किया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने अपने संबोधन में बताया कि भारत की जनसंख्या को स्थिर करना बहुत जरूरी है। जनसंख्या की तुलना में हमारे संसाधन कम पड़ते जा रहे हैं। जनसंख्या वृद्धि के कारण बेरोजगारी एवं भ्रष्टाचार बढ़ रहा है। इसलिए हमें छोटा परिवार छोटा सुखी परिवार के कांसेप्ट को अमल में लाना होगा। लोगों को छोटे परिवार के फायदे बताने होंगे। ये काम स्वास्थ्य विभाग आशा बहनों के माध्यम से गाँव स्तर पर कर रहा है ।

धर्मगुरुओं ने क्या कहा
सभी धर्मों के गुरुओं ने भी विचार रखे। सबसे पहले चर्च के पादरी विवेक सहाय ने अपने सम्बोधन में कहा कि देश के लिए जनसंख्या स्थिरता बहुत जरूरी है। जनसंख्या स्थिरता के लिए परिवार नियोजन बहुत जरूरी है। जितने भी लोग चर्च में आते हैं, हम उन सभी को बताते हैं कि छोटा परिवार सुखी परिवार का आधार है। मुहम्मद शमशाद मौलवी ने बताया कि जिस तरह हमने पोलियो की दवा पिलाने के लिए अपने धर्म के लोगों को प्रोसाहित किया था, उसी तरह परिवार नियोजन के लिए करेंगे। पंडित ‌कुलदीप शर्मा द्वारा बताया गया कि मंदिरों में होने वाले कार्यक्रमों में लोगों को छोटा परिवार सुख का आधार का महत्व बताया जाएगा। सिख धर्म के हरपाल सिंह ग्रंथी ने बताया कि जनसंख्या स्थिरता के लिए हमें शिक्षा पर विशेष महत्व ध्यान होगा। अशिक्षा बढ़ती हुई जनसंख्या का एक बड़ा कारण है। डॉ. विजेंद्र सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि जिस तरह आप सभी के सहयोग से देश को पोलियो मुक्त किया है, उसी तरह आपके सहयोग से जनसंख्या को स्थिर करेंगे। आपके सहयोग के बिना ये कार्य संभव नहीं होगा।

परिवार को एक नियोजन के साथ बढ़ाएं
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संतोष कुमार ने कहा कि जनसंख्या स्थिरता के किये बहुत जरूरी है लड़की की शादी 18 साल से पहले और लड़के की शादी 21 साल से पहले किसी भी कीमत पर ना करें। उसे परिवार नियोजन का मतलब बतायें कि वो शादी के बाद परिवार को एक नियोजन के साथ बढ़ाये ।

एक या दो बच्चों को अच्छी शिक्षा दे सकते हैं
जिला स्वास्थ्य शिक्षा एव सूचना अधिकारी चतुर सिंह ने कहा कि अगर एक या दो बच्चे होंगे तो हम उनको अच्छी शिक्षा दिला सकते है, अच्छा खिला सकते हैं, अच्छा पहना सकते हैं। जिला परिवार कल्याण विशेषज्ञ आशीष कुमार ने 11 जुलाई से 31 जुलाई के बीच होने वाले विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। जिला कार्यक्रम प्रबंधक बलवीर सिंह और डॉ. प्रभात ने भी अपने विचार रखे।

ये रहे उपस्थित
सम्मेलन में जिला परिवार कल्याण विशेषज्ञ आशीष शर्मा ने पखवाड़े में होने वाली सभी गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया। जनसंख्या स्थिरीकरण के विषय पर चर्चा की। इस मौके पर सुनील दत्त शर्मा, मुकेश जौहरी डी एम ओ सहित सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा सभी धर्मगुरुओं एवं उपस्थित सभी अधिकारियो एव कर्मचारियों को धन्यवा दिया गया ।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned