यहां भगवान श्री कृष्ण के जन्म के बाद जगह-जगह फूटी मटकियां, देखें वीडियो

पांच मंजिला ऊपर मटकी पर लटक कर कृष्ण भक्त ने फोड़ी मटकी।

By: अमित शर्मा

Published: 04 Sep 2018, 09:51 PM IST

हाथरस। गोविंदा आला रे, आला, जरा मटकी संभाल बृजवाला, यही गूंज हाथरस के कई इलाकों में रही। दरअसल, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की देर रात्रि को भगवान श्री कृष्ण के जन्म के बाद यहां पर मटकी फोड़ प्रतियोगिता में युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। उन्होंने गोविंदा का रूप धर मटकी फोड़ी।

जब मटकी को पकड़कर लटक गया भक्त

हाथरस के मेडु गेट चौराहे पर लगभग पांच मंजिला ऊपर मटकी बांधकर कृष्ण भक्तों द्वारा मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में भक्तों की टोली ने कई बार टोली बनाकर एक दूसरे पर चढ़कर मटकी पर पहुंचने की कोशिश की कई ,लेकिन कई बार फेल हो गए। उसके बाद एक टोली होसला कर उस पांच मंजिला मटकी पर पहुंच गयी। जैसे ही भक्त मटकी पर पहुंचा तो नीचे से उसकी टीम गिर गई और बेचारा वक्त मटकी को पकड़कर लटका रहा उसके बाद भगवान श्री कृष्ण के जयकारों के साथ मटकी फोड़ी गई और वक्त काफी आनंदित हुए।

पूरा हाथरस हुआ सागर में सराबोर

शहर में जहां-जहां मटकी फोड़ी गई, वहां लोगों का जमघट लगा रहा। इधर, लोग डीजे पर थिरकते नजर आए, जिससे पूरा शहर भक्ति के सागर में सराबोर हो गया। देर रात को साईं मंदिर, चक्की बाजार, मैंडू गेट, चक्की बाजार, कमला बाजार, चूड़ी वाली गली समेत अनेक स्थानों पर भारी संख्या में लोग प्रतियोगिता में युवाओं का उत्साह बढ़ाने के लिए एकत्रित हुए। युवाओं की टोलियों ने बाजारों में भी भ्रमण किया। लहरा रोड स्थित बांके बिहारी मंदिर पर भी सुबह से ही भक्ति के कार्यक्रम चले। रात को यहां पर मटकी फोड़ प्रतियोगिता हुई।

पुलिस की रही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

हाथरस के सभी मंदिरों पर और जहां-जहां धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ उन सभी जगह पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था देखने को मिली। पुलिस अधीक्षक जयप्रकाश के निर्देशन पर जिले की पुलिस फोर्स त्योहार को शांति व्यवस्था के साथ मनाने के लिए पूरी तरह मुस्तैद रही। वहीं एएसपी सिद्धार्थ वर्मा भी पूरी रात जगह-जगह पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे ।और जन्माष्टमी पर्व बड़ी शांति के साथ हाथरस में मनाया गया।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned