जानिए ऐसा क्या हुआ कि तहसील परिसर में धरने पर बैठ गए सारे लेखपाल

उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के बैनर तले हाथरस लेखपाल संघ ने अनिश्चित कालीन धरना देने का ऐलान किया है।

By: suchita mishra

Published: 16 May 2018, 01:50 PM IST

हाथरस। जनपद की सिकंदराराऊ तहसील के गांव गिरधरपुर में उपजिलाधिकारी के आदेश पर जमीन की नापतोल करने गये लेखपाल के साथ ग्रामीणों द्वारा मारपीट करने के बाद पुलिस की कार्रवाई न होने से नाराज लेखपाल तहसील भवन परिसर में धरने पर बैठ गए। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के बैनर तले हाथरस लेखपाल संघ ने अनिश्चित कालीन धरना देने का ऐलान किया है।

जमीन का कब्जा मुक्त कराने गये थे लेखपाल
सिकंदराराऊ तहसील के गांव गिरधरपुर में उपजिलाधिकारी के आदेश पर पिछली चार मई को जमीन की नापतोल करने गये लेखपाल संतोष कुमार व अफसर अहमद के साथ ग्रामीणों द्वारा मारपीट की गयी। घायल अवस्था में अपनी जानबचा कर वो सिकंदराराऊ की हसायन कोतवाली पहुंचे और कुछ दबंग ग्रामीणों की शिकायत की और खुद की सुरक्षा की गुहार लगाई। इस मामले में कई दिन बीत जाने के बाद भी हसायन कोतवाली पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न किये जाने से नाराज लेखपाल संघ ने अनिश्चित कालीन धरने का ऐलान किया है।

उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के बैनर तले हाथरस लेखपाल संघ के समस्त लेखपाल तहसील भवन के परिसर में धरने पर बैठ गये और लेखपाल संघ जिन्दाबाद के नारे लगाकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। लेखपाल सुभाष यादव, आदर्श गौड़, तेजवीर सिंह, जनरल सिंह, रामचन्द पाण्डे, राजकुमार, प्रेमपाल सिंह, मनोज कुमार, नरेन्द्र सिंह, धर्मवीर सिंह, अरविन्द कुमार, सचिन शर्मा, राजेश कुमार, मेधा जैन, संगीता राठौर, रैनू शर्मा आदि लेखपालों ने सासनी तहसील परिषर में धरने पर बैठ पुलिस से कार्रवाई की मांग की।

Show More
suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned