बसपा से निलंबित किए जाने के बाद रामवीर उपाध्याय का बड़ा कदम, बड़े उलटफेर की तैयारी

बसपा से निलंबित किए जाने के बाद रामवीर उपाध्याय का बड़ा कदम, बड़े उलटफेर की तैयारी

Amit Sharma | Publish: Jun, 01 2019 05:38:12 PM (IST) | Updated: Jun, 01 2019 05:59:07 PM (IST) Hathras, Hathras, Uttar Pradesh, India

जल्द ही बड़ी उठा पटक होने का आनुमान है और पुनः उपाध्याय परिवार का कब्जा हो सकता है।

हाथरस। बहुजन समाज पार्टी से निलंबित किए गए कद्दावर नेता पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय ने लोकसभा चुनाव के बाद पहली बड़ी रणनीति पर काम शुरू कर दी है। एक बार फिर वह अपने परिवार के सदस्य को जिला पंचायत अध्य़क्ष की कुर्सी पर काबिज कराने के लिए जुट गए हैं। इसी क्रम में उन्होंने जिलाधिकारी के समक्ष अविस्वास प्रस्ताव पेश किया है।

ramveer upadhyay

16 सदस्य साथ होने का दावा

रामवीर उपाध्याय जिला पंचायत सदस्यों के साथ जिलाधिकारी से मिले। उन्होंने जिलाधिकारी के समक्ष अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है। रामवीर ने दावा किया है कि जिला पंचायत के कुल 25 में से 16 सदस्य उनके साथ हैं। इसलिए अविस्वास प्रस्ताव लाया जाए। इसके बाद जिले क राजनीति में एक बार फिर हलचल तेज हो गई है। जल्द ही बड़ी उठा पटक होने का आनुमान है और पुनः उपाध्याय परिवार का कब्जा हो सकता है।

बता दें कि वर्तमान में सपा की जिलाध्यक्ष ओमवती यादव उर्फ बुआ जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। पूर्व में बसपा की तरफ से रामवीर उपाध्याय के अनुज विनोद उपाध्याय जिला पंचायत अध्यक्ष थे, सपा ने अविश्वास प्रस्ताव पेश कर उनसे यह कुर्सी छीनी थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned