हाथरस कांड: पीड़िता के परिवार को संजय सिंह ने ऑफर किया घर, बोले- योगीराज के खौफ में रहने की जरूरत नहीं

Highlights

- संजय सिंह ने हाथरस केस के पीड़ित परिवार को दिल्ली स्थित अपने घर में रहने का न्यौता दिया

- ट्वीट करते हुए कहा- पीड़िता के चाचा से दिल्ली आने को लेकर हुई है बात

- मृतका के भाई ने भी की थी दिल्ली में रहने की बात

By: lokesh verma

Published: 18 Oct 2020, 11:24 AM IST

हाथरस. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) से राज्यसभा सांसद और उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने हाथरस केस के पीड़ित परिवार को दिल्ली स्थित अपने घर में रहने का न्यौता दिया है। संजय सिंह ने कहा है कि उन्होंने इस संबंध में पीड़िता के चाचा से बातचीत की है। आप सांसद ने इसकी जानकारी ट्वीट करते हुए दी है।

यह भी पढ़ें- बुलंदशहर पहुंचे अजित सिंह ने कहा 'सुनियाेजित' था हाथरस में जयंत पर लाठीचार्ज

संजय सिंह ने ट्वीट में कहा है कि वह हाथरस पीड़िता के परिवार को दिल्ली स्थित अपने घर पर साथ रखने के लिए तैयार हैं। उन्हें योगी आदित्यनाथ के राज में खौफ में रहने की जरूरत नहीं है। उन्होंने बिटिया के चाचा से फोन पर बातचीत में इसका अनुरोध किया है।

बता दें कि हाथरस केस की सीबीआई जांच के दौरान मृतका के भाई ने दिल्ली शिफ्ट होने की बात कही थी। इसके साथ ही 12 अक्टूबर को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के सामने भी केस को उत्तर प्रदेश से दिल्ली शिफ्ट करने की मांग की गई थी। मृतका के भाई ने कहा था कि केस दिल्ली ट्रांसफर होने पर वह वहीं से बेहतर पैरवी कर सकते हैं। दिल्ली में किराए के मकान में रहने की बात की गई थी।

हाथरस केस के साथ ही संजय सिंह ने बलिया हत्याकांड को लेकर भी सीएम योगी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि जयप्रकाश पाल हत्याकांड में दोषी आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के समर्थन में दिए गए भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह के बयान से बेशर्मी झलकती है। उनका बयान जातीय हिंसा भड़काने जैसा है। उन्होंने सीएम योगी से सवाल पूछते हुए कहा की क्या पाल समाज ने उनको अपने वोट देकर गलती की है? क्या योगीराज में उनको जीने का हक नहीं है?

यह भी पढ़ें- Meerut Rape Case: दो घंटे तक महानगर की सड़कों पर पीड़िता को लेकर कार में घूमता रहा बलात्कारी

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned