चश्मे वाली इस युवती को देख अस्पताल में मच गई भगदड़, सरकारी कर्मचारियों के छूट गये पसीने ...

चश्मे वाली इस युवती को देख अस्पताल में मच गई भगदड़, सरकारी कर्मचारियों के छूट गये पसीने ...

Dhirendra yadav | Publish: Aug, 11 2018 06:42:55 PM (IST) | Updated: Aug, 13 2018 10:44:47 AM (IST) Hathras, Uttar Pradesh, India

चार्ज लेने के बाद किया औचक निरीक्षण, एसडीएम ने दिये ये निर्देश।

हाथरस। सरकारी अस्पताल में मौज मारने वाले कर्मचारियों की उस समय आफत आ गई, जब उनकी पोल महिला अधिकारी के सामने खुल गई।सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं का हाल क्या चल रहा है, इसकी जानकारी परखने के लिए महिला अधिकारी जब सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंची, तो चिकित्सक और कर्मचारियों के होश उड़ गए। इतनी जल्दी करते भी तो क्या, कर्मचारी और ना चिकित्सक कोई लीपापोती न कर सके। एसडीएम ने व्यवस्थाओं के दुरुस्त न होने पर जमकर लताड़ लगाई।

चार्ज संभालते ही एसडीएम का बड़ा एक्शन
हाथरस जिले की तहसील सादाबाद की एसडीएम ज्योतसना बंधु ने सादाबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया, जिससे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हड़कंप मच गया। एसडीएम ज्योतसना बंधु ने अभी कुछ दिनों पहले ही सादाबाद तहसील का चार्ज संभाला है और आज सादाबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का हाल जानने के लिए उन्होंने सीएचसी केंद्र का औचक निरिक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्हें स्वास्थ्य केंद्र में भारी गंदगी मिली और कुछ कमियां भी। एसडीएम ने सभी व्यवस्था ठीक करने के निर्देश दिए हैं।

गंदगी देख एसडीएम का चढ़ा पारा
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने पहुंचे एसडीएम ज्योत्सना बंधु ने जब स्वास्थ्य केंद्र में चारों तरफ गंदगी देखी तो उनका पारा चढ़ गया।स्वास्थ्य केंद्र के चाहे वार्ड रूम हों या चिकित्सक के रूम, सभी जगह गंदगी गंदगी दिखाई दे रही थी, जिससे SDM को काफी गुस्सा आया और उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों को फटकार लगाई। SDM ने स्वास्थ्य कर्मियों को साफ चेतावनी दी कि कैसे भी व्यवस्थाओं को दुरुस्त करें अन्य था उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

महिला शौचालय में नहीं थे दरवाजे
SDM को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में निरीक्षण के दौरान गंदगी तो मिली, साथ ही महिला शौचालय के गेट भी गायब मिले। एसडीएम ने स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी को गेट चढ़वाने के निर्देश दिए हैं। भाई SDM ने स्वास्थ्य कर्मियों को चेतावनी दी है कि बीमारियां लोगों को गंदगी के कारण होती हैं और जब स्वास्थ्य केंद्र में गंदगी होगी तो मरीज को इलाज कैसे मिल पाएगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned