पुलिस चौकी से महज 100 मीटर की दूरी पर एटीएम मशीन चोरी, 48 घंटों तक किसी को भनक तक नहीं

पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम चोरी। व्हाट्स ग्रुप पर मिली फोटो से हुई अधिकारियों को जानकारी।

By: suchita mishra

Updated: 04 Jan 2018, 11:30 AM IST

हाथरस। आपने एटीएम मशीन या एटीएम कार्ड से छेड़छाड़ कर ठगी करने के तमाम किस्से सुने होंगे, लेकिन हाथरस में चोरों ने पूरी पंजाब नेशनल बैंक की एटीएम मशीन को ही गायब कर दिया। हैरानी की बात ये है कि इतनी बड़ी मशीन ले जाते चोरों के बारे में किसी को भनक तक नहीं लगी। पुलिस को भी घटना का 48 घंटे बाद पता चला। आनन फानन में मौके पर आला अधिकारी डॉग स्क्वायड के साथ वहां पहुंचे और तलाश शुरू की। घटना मंगलायतन तीर्थ धाम के पास की है। आपको बता दें कि घटना स्थल से करीब 100 मीटर दूरी पर ही पुलिस चौकी है। अधिकारियों के मुताबिक एटीएम में करीब दस लाख रुपए थे।

जश्न की आड़ में घटना को अंजाम
माना जा रहा है कि 29 और 30 दिसंबर को एटीएम में रूपये डाले गये थे। तीस दिसंबर के दिन ही एटीएम की विद्युत लाइन काट दी गई। इसके बाद इलाके में मौजूद रेस्टोरेंट में 31 दिसंबर को नए साल का जश्न मनाया गया। करीब साढ़े आठ बजे जश्न मनाने वाले सभी लोग चले गये। एटीएम का भी शटर गिरा दिया गया। इसी दौरान अज्ञात चोरों ने घटना को अंजाम दिया होगा।

 

व्हाट्सएप ग्रुप में फोटो पहुंचने पर मची खलबली
घटना की जानकारी मंगलायतन कर्मचारियों और एटीएम में रूपये डालने वाली कंपनी एसआईपीएल अधिकारियों को भी दो जनवरी को हुई। लेकिन उन्होंने इस बारे में पुलिस को सूचना नहीं दी। पुलिस को घटना की जानकारी बुधवार की दोपहर को हुई, जब एटीएम इंचार्ज सुनील कुमार पुत्र ओमप्रकाश निवासी नगला लच्छी एवं अन्य कर्मचारियों ने एटीएम की खाली जगह के फोटो व्हाट्सएप ग्रुप पर भेजे। फोटो देखकर पुलिस विभाग में हडकंप मच गया।

 

 

एएसपी ने लगाईं अधीनस्थों को फटकार
एएसपी, क्षेत्राधिकारी हाथरस और क्षेत्राधिकारी सादाबाद मौके पर पहुंच गए। इसके बाद डॉग स्क्वायड तथा फॉरेंसिक टीम को बुलाकर चोरों को तलाश किया गया, मगर घटना को अधिक समय हो जाने के कारण डॉग स्क्वायड इसमें विफल रहा। नाराज एएसपी ने घटना को लेकर कोतवाल सहित दरोगा मंगलायतन कर्मचारियों और एसआईपीएल एजेंसी के कर्मचारियों व ब्रांच मैनेजर आदि को लापरवाही बरतने के लिए फटकार लगाई। फिलहाल पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है।

Show More
suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned