10 रुपए के सिक्के को लेकर व्यापारी परेशान, जानिए कारण

Mukesh Kumar

Publish: Sep, 17 2017 12:14:53 (IST)

Hathras, Uttar Pradesh, India
10 रुपए के सिक्के को लेकर व्यापारी परेशान, जानिए कारण

10 रुपए के सिक्के को लेकर लोगों में कन्फ्यूजन लगातार बना हुआ है।

हाथरस। 10 रुपए के सिक्के को लेकर लोगों में कन्फ्यूजन लगातार बना हुआ है। आये दिन 10 रुपए के असली-नकली सिक्कों को लेकर दुकानों, बैंकों पर हंगामे की खबरें सामने आ रही हैं। हाथरस के व्यापारियों में तो इन सिक्कों को लेकर आक्रोश व्याप्त है। दरअसल ग्राहक 10 सिक्के व्यापारियों को दे जाते हैं, लेकिन बैंक वाले इन सिक्कों को लेने पर आनाकानी करते हैं। इसी को लेकर शनिवार को कस्बा मुरसान के व्यापारियों ने थाने में जमकर हंगामा किया।

बैंकों में नहीं लिए जा रहे सिक्के
10 के सिक्कों पर बढ़ती समस्या को लेकर व्यापारियों ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बांच मैनेजर से भी मुलाकात की। लेकिन वहां भी उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ। जिसके बाद अब वे लोग अपनी शिकायत लेकर मुरसान थाने पहुंचे और पुलिस से समाधान कराने की मांग की है। व्यापारियों का कहना था कि सिक्के ग्राहक तो देते हैं, लेकिन इन्हें कोई लेने को तैयार नहीं होता है। जिसे लेकर व्यापारी वर्ग परेशान है। वहीं जब वे लोग इन सिक्कों को बैंक में जमा करने जाते हैं तो बैंक कर्मी भी आनाकानी करते हैं। जिससे उनको काफी नुकसान हो रहा है। हर रोज ग्राहक उनकी दुकानों पर हजारों रुपए के 10 रुपए के सिक्के दे जाते हैं। ऐसे में वे लोग इन सिक्कों को लेकर कहां लेकर जाएं।

सिक्के जमा करने के लिए बनेगा काउंटर
इस संबंध में जब स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बांच मैनेजर मूलचंद से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है। बैंक में सिक्के जमा किये जा रहे हैं। जरूरत पड़ी तो अलग से काउंटर बनाया जाएगा। जिस पर 10 रुपए के सिक्कों को जमा किया जाएगा।

नोटबंदी के बाद से फैली ये अफवाह
बता दें नोटबंदी के बाद से 10 रुपए के नकली सिक्के को लेकर अफवाह फैली। यहां तक कि सोशल मीडिया पर इन सिक्कों को अवैध घोषित किए जाने की खबरें वायरल हुई। जिसके बाद से ग्राहक और व्यापारियों में कनफ्यूजन बना हुआ है। हालांकि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से साफ तौर पर निर्देश जारी किया गया है कि 10 रुपए के सिक्के प्रचलन में है। जो कोई भी इन सिक्कों को नहीं लेगा उस पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned