जब प्रशासन ने मूंद ली आंख, ग्रामीणों ने लिया खुंखार तस्करों से लोहा, यूं कर दिया काम ठप

खुद जनता को ही आवाज उठानी पड़ती है, इस पर भी कुछ ना होतो एक्शन मोड में आना पड़ता है (Villagers Stopped Sand Smuggling In Chatra Jharkhand) (Jharkhand News) (Chatra News) (Hazaribagh News)...

By: Prateek

Published: 18 Jun 2020, 02:40 PM IST

चतरा,हजारीबाग: कभी—कभी प्रशासन और जिम्मेदार अधिकारी बदमाशों की हरकतों को देखकर आंख मूंद लेते हैं। ऐसे में खुद जनता को ही आवाज उठानी पड़ती है। इस पर भी कुछ ना होतो एक्शन मोड में आना पड़ता है। यहां झारखंड के चतरा जिले में भी ऐसा ही हुआ। जहां ग्रामीणों ने अवैध तरीके से बालू ले जा रहे ट्रकों को जब्त कर खुद पुलिस को सौंप दिया।

यह भी पढ़ें: UNSC: निर्विरोध अस्थायी सदस्य बनने पर पीएम मोदी ने कहा - वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए करेंगे काम

यहां खनन विभाग की लापरवाही की वजह से बालू का अवैध उत्खनन व तस्करी लंबे समय से जारी थी। आखिर में ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। पत्थलगड़ा और सिमरिया थाना क्षेत्र के सीमा से होकर गुजरने वाली भूराही नदी में जारी बालू के अवैध उत्खनन के विरुद्ध ग्रामीणों ने एक स्वर में आवाज उठाई। आक्रोशित ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचकर अवैध तरीके से बालू का उठाव कर रहे तस्करों को मौके से खदेड़ दिया। यही नहीं गांव वालों ने नदी से अवैध रूप से बालू का उठाव कर जा रहे तीन ट्रैक्टरों को जब्त कर पुलिस को सौंप दिया।

यह भी पढ़ें: Sushant Singh की मौत पर आज होगी पहली सुनवाई, बॉलीवुड हस्तियों पर सुसाइड करने लिए उकसाने का आरोप


कईं हो चुके हैं मौत का शिकार...

ग्रामीणों का कहना है कि भूराही नदी में चल रही अंधाधुंध बालू की तस्करी की सूचना कई बार पुलिस और वन विभाग को दी गई। लेकिन प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद ग्रामीणों ने बालू तस्करी पर पूरी तरह रोक लगा दी। ग्रामीणों का आरोप है कि बालू के अवैध उत्खनन से नदी का न सिर्फ अस्तित्व खतरे में आ गया है बल्कि बालू भी पूरी तरह से नदी से समाप्त होने के कगार पर है। इतना ही नहीं सिमरिया और पत्थलगड़ा के कई सीमांत गांव में बालू लदे ट्रैक्टरों की आवाजाही से लोग दुर्घटनाओं के भी शिकार हो चुके हैं। ग्रामीणों के अनुसार तस्करों के द्वारा अवैध बालू का उत्खनन कर प्रतिदिन 50 से 60 ट्रैक्टर बालू चतरा और हजारीबाग के कई स्थानों में तस्करी कर भेजा जाता है। ग्रामीणों के इस कार्रवाई से इलाके में सक्रिय बालू माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned