scriptAstronauts cannot be eaten in these 5 foods, NASA explained the reason | ये 5 फूड्स स्‍पेस में ले जाना हैं प्रतिबंधित, नासा ने बताया, क्यों एस्‍ट्रोनॉट नहीं खा सकते ये चीजें | Patrika News

ये 5 फूड्स स्‍पेस में ले जाना हैं प्रतिबंधित, नासा ने बताया, क्यों एस्‍ट्रोनॉट नहीं खा सकते ये चीजें

स्पेस में जाने वाले एस्ट्रोनॉट को अपने साथ कुछ फूड्स ले जाने की मनाही होती है। क्या आपको पता है कि अंतरिक्ष में पांच तरह के फूड आइटम नहीं ले जाया जा सकता? क्यों, चलिए जानें।

Updated: April 01, 2022 10:27:02 am

अंतरिक्ष में जाने वाले यात्रियों यानी एस्ट्रोनॉट के बारे में जानने की जिज्ञासा हर किसी की होती है। स्पेस में उनके काम के अलावा उनके दैनिक दिनचर्या को लेकर बहुत सी बाते होती हैं। वे कैसे रहते होंगे, क्या खाते होंगे आदि। ये अपने साा कैसे फूड लेकर जाते होंगे और उनकी शेल्फ लाइफ कितनी होती होगी। अगर आपके मन में भी ये सवाल उठता है तो चलिए जानें उनकी डाइट के बारे में। साथ ही वह चीजें भी जो स्पेस में ले जाना प्रतिबंधित है और क्यों।
astronauts_cant_eaten_in_these_5_foods.jpg
नासा के अनुसार अंतरिक्ष में फल, ब्राउनी, मैकरोनी, स्पेगेटी, कैंडीज, नट्स, पीनट बटर जैसी चीजें ही एस्ट्रोनॉट ज्यादा खाते हैं, क्योंकि इनकी शेल्फ लाइफ ज्यादा होती है और ये खराब न हो इसके लिए अलग से पैक किए जाते हैं।
नासा की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार खाद्य पदार्थों को गर्म करने के लिए स्पेश स्टेशन में ओवन भी होता है। हालांकि, जिन खाद्य पदार्थों को रेफ्रिजरेशन की जरूरत होती है वे स्पेस स्टेशन तक नहीं पहुंच पाते क्योंकि स्पेस स्टेशन में रेफ्रिजरेटर नहीं होते है।
इन पांच चीजों को स्पेस में ले जाना मना है

अमेरिका की विज्ञान और प्रौद्योगिकी संग्रहालय 'द फ्रैंकलिन इंस्टीट्यूट' के अनुसार स्पेस में इन 5 चीजों को ले जाना मना है।
नमक और काली मिर्च: स्पेस में नमक और काली मिर्च नहीं ले जाया जा सकता है,क्योंकि स्पेस में नमक और काली मिर्च छिड़कने से हवा में फैल कर पूरे यान में फैल सकते हैं। इससे एक खतरा है कि वे वायु मार्ग को रोक सकते हैं, उपकरण दूषित कर सकते हैं या यात्री की आंखों, मुंह या नाक में फंस सकता है। हालांकि इनके लिक्विड रूप साथ में कैरी किए जा सकते हैं।
ब्रेड, कुकीज और क्रैकर्स: ब्रेड अमून ले जाना मना तो नहीं, लेकिन इसे ले जाने से इसलिए मना किया जाता है, क्योंकि इसकी शेल्फ लाइफ कम होती है। वहीं, कुकीज़ और क्रैकर्स को लेजाने पर मनाही है। क्योंकि इसे हल्के कण स्पेस में तैर सकते हैं और संवेदनशील उपकरण में फंस सकते हैं। इनकी बजाय अंतरिक्ष यात्री अक्सर टॉर्टिला खाते हैं।
सोडायुक्त पेय: फ्रैंकलिन इंस्टीट्यूट के अनुसार सोडायुक्त पेय भी स्पेस में नहीं ले जाया जा सकता है। क्योंकि इनमें कार्बोनेशन अर्थ की तुलना में स्पेस में ज्यादा होती है। इससे कार्बन डाइऑक्साइड बुलबुले तरल के भीतर रहते हैं, जो कि एक गैस के रूप में रिलीज होने में विरोध करता है।
शराब : अंतरिक्ष यात्रियों के लिए शराब पर पाबंदी है। ऐसा इसलिए क्योंकि इनका काम चौबीसो घंटे का होता है। ऐसे में अत्यधिक एकाग्रता की आवश्यकता होती है।

आइसक्रीम: फ्रैंकलिन इंस्टीट्यूट के अनुसार आइसक्रीम जब पिघलती है तो उससे उपकरणों में दिक्कत आ सकती है। आइसक्रीम संवेदनशील उपकरणों में हस्तक्षेप कर सकती है और माइक्रोग्रैविटी में धूल भरा वातावरण बना सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.