scriptGhee can become a deadly food in these diseases | घी खाना बन सकता है आपके लिए जानलेवा, इन बीमारियों में फायदे की जगह होता है नुकसान | Patrika News

घी खाना बन सकता है आपके लिए जानलेवा, इन बीमारियों में फायदे की जगह होता है नुकसान

Ghee side effects: घी में चुपड़ी रोटी, दाल या सब्जी पर तैरता घी, स्वाद में तो भले ही बहुत अच्छा लगता है, लेकिन सभी के लिए ये फायदेमंद नहीं होता। कुछ बीमारियों में घी खाना जानलेवा तक बन सकता है।

नई दिल्ली

Published: March 26, 2022 04:06:19 pm

भारतीय खाने में जायके के लिए घी का प्रयोग हर किचन में होता है। घी सेहतमंद भी होता है और एक सीमित मात्रा में इसे खाने की सलाह डॉक्टर भी देते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि कुछ बीमारियों घी का एक चम्मच भी जहर की तरह काम करता है? आयुर्वेद में भी दवाई बनाने के लिए घी का इस्तेमाल होता है। घी नेचुरल और गुणों से भरा होता है और इसे रोज खाने में बुराई नहीं, लेकिन अगर आप कुछ खास तरह की समस्या से परेशान हैं तो उसमें घी का सेवन हानिकारक साबित होता है।
ghee_side_effects.jpg
देसी घी में विटामिन-A, विटामिन-E, विटामिन-K2, विटामिन-D, प्रोटीन, मिनरल्स जैसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं। बच्चों से लेकर गर्भवती तक को घी का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इससे यह समझा जा सकता है कि घी बेहद स्वास्थ्यवर्धक होता है, बावजूद इसे खाने से कुछ लोगों को परहेज करना पड़ता है। घी में एंटी-एजिंग के गुण के साथ याददश्त बढ़ाने के गुण भी होते हैं। तो चलिए जानें कि किन बीमारियों में घी का सेवन पूरी तरह से मना है।
आइए अब जानते हैं कि वह कौन-कौन सी स्थितियां हैं जिन स्थितियों में आपको घी का सेवन नहीं करना चाहिए
डॉक्टरों की मानें तो घी भले ही हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है लेकिन यह हर परिस्थिति में लाभ पहुंचाएं यह जरूरी नहीं है। घी सभी के लिए सामान्य रूप से काम नहीं करता।
इन बीमारियों में घी करता है नुकसान

कोलेस्ट्रॉल की समस्या - अगर आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ रहा है तो आपको घी या किसी भी प्रकार की ऑयली चीजों से दूर रहना चाहिए। घी धमनियों में जमने लगता है, इसलिए ब्लड सर्कुलेशन में दिक्कत आने लगती है। इससे दिल का दौरा या हाई बीपी की समस्या भी हो सकती है।
डायरिया या पाचन से जुड़ी दिक्कत -डायरिया में एक बूंद घी भी जहर जैसा बन जाता है। वहीं पेट से जुड़ी अन्य दिक्कतों में भी घी खाना मना होता है। गै-एसिडिटी में भी घी खाने से बचना चाहिए। पित की समस्या में घी उसे और बढ़ा देता है।
फैटी लिवर- अगर आप फैटी लिवर से जूझ रहे या आपको पीलिया या हेपेटाइटिस जैसी कोई भी लिवर से जुड़ी समस्या है तो आपके लिए घी जहर है। हालांकि, इन सभी बीमारियों में चिकनाई से दूर रहने की सलाह दी जाती है।
ओबेसिटी-अगर आप ओबेसिटी जैसी मोटापे के बीमारी से ग्रस्त हैं तो आपके लिए घी सही नहीं। घी का सेवन आपको कई बीमारियों का खतरा पैदा कर सकता है और वेट लॉस भी नहीं होने देगा
गले में इंफेक्शन- अगर गले में आपके सूजन या इंफेक्शन है तो आपके लिए घी सही नहीं। घी गले में चिपककर जम सकता है इससे सांस लेने में दिक्कत होगी और चिकनाई में फूड के कण चिपक सकते हैं, इससे संक्रमण का खतरा बढ़ेगा। इसलिए सर्दी-जुकाम या खांसी में भी घी से दूर रहने की सलाह दी जाती है।
(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सभी जानकारियां सूचनात्मक उद्देश्य से लिखी गई हैं। इनमें से किसी भी सलाह पर अमल करने या किसी तरीके को अपनाने का फैसला आपका व्यक्तिगत निर्णय होगा। किसी भी निष्कर्ष तक पहुंचने से पहले कृपया किसी विशेषज्ञ से परामर्श जरूर करें।)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

भारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...योगी की राह पर दक्षिण के बोम्मई, इस कानून को लागू करने वाला नौवां राज्य बना कर्नाटकSri Lanka Crisis: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे की बची कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव हुआ खारिज900 छक्के, IPL 2022 में रचा गया इतिहास, बल्लेबाजों ने 15वें सीजन में बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्डIPL 2022 : 65वें मैच के बाद हुआ बड़ा उलटफेर ऑरेंज कैप पर बटलर नंबर- 1 पर कायम, पर्पल कैप में उमरान मलिक ने लगाई छलांगज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होभाजपा के पूर्व सांसद व अजजा आयोग के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के इस पोस्ट से मचा बवाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.